किसानों से मोबाइल के जरिए रूबरू हुए डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला

चंडीगढ़: : 'सारे किसान भाइयां न राम-राम, ईब सुनो थारी फसल का एक-एक दाना खरीदेगी सरकार। थांनै कोई दिक्कत ना होवै इस खातर गाम-गाम म्है घणी और मंडी बना दी सै, थारी फसल के हिसाब से, चिंता न करो थारी गेल्या खड़ा सूं”। सरसों अर कणक का एक एक दाणा खरीदूंगा। कुछ इसी तरह का संवाद प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला और खेतों में काम कर रहे किसानों के बीच था। 

दरअसल वीरवार को डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने चंडीगढ़ स्थित अपने आवास से प्रदेशभर में दर्जनों किसानों के साथ व्हाट्सएप पर वीडियो कॉल के जरिए उनका हाल-चाल जानते हुए उनकी समस्याएं सुनी। इस दौरान डिप्टी सीएम ने किसानों को गेहूं और सरसों की फसल खरीद के लिए सरकार द्वारा बनाई व्यवस्था की जानकारी देते हुए कहा कि उन्हें कोई परेशानी नहीं आने दी जाएगी। साथ ही दुष्यंत चौटाला ने किसानों से कोरोना महामारी से बचने के लिए सभी जरूरी उपाय अपनाने की अपील की। 

उपमुख्यमंत्री ने रोहतक ज़िले के गांव चुलियाना वासी किसान सुभाष से बात करते हुए ग्रामीणों का हाल-चाल पूछा व फसल कटाई के बारे में जानकारी ली। किसान सुभाष ने गेंहू की कटाई के लिए कंबाइन न होने की समस्या उप-मुख्यमंत्री को बताई। जिस पर दुष्यंत चौटाला ने कंबाइन की उपलब्धता को लेकर आश्वस्त किया कि फसल कटाई के लिए किसानों को कोई परेशानी नहीं आने दी जाएगी और फसल कटाई के लिए कंबाइनों की पूरी व्यवस्था की जाएगी। व्हाट्सएप वीडियो कॉल पर दुष्यंत चौटाला ने हिसार ज़िले के गांव बोबुआ के किसान उदयवीर चहल से बात की तो उदयवीर के आशचर्य का ठिकाना नहीं रहा कि प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री उनसे वीडियो कॉल करके हालचाल जान रहे हैं। किसान उदयवीर ने पूछा कि इस बार सरसों की खरीद प्रति एकड़ कितनी होगी? इस पर डिप्टी सीएम ने कहा कि हर किसान की सरसों व गेहूं का एक-एक दाना खरीदेंगे, सभी किसान बेफिक्र रहें। 

इसी तरह दादरी ज़िले के गांव खेड़ी बूरा के किसान सुखबीर एवं गांव नांगल (भिवानी) के किसान पूर्व सरपंच सुबे सिहं सहित अन्य कई किसानों ने डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला से फसल खरीद केन्द्रों पर पानी और सेनेटाईजर की व्यवस्था करवाने का आग्रह किया। जिस पर दुष्यंत चौटाला ने किसान को आश्वस्त किया कि सरकार ये व्यवस्था जरूर करवाएगी। दुष्यंत चौटाला ने गांव चिंडालिया, हलका नारनौल के किसान राजकुमार व उनकी माता पतासी देवी से भी बातचीत की। उन्होंने घर व उनके गांव में सब राजी-खुशी के बारे में बातचीत की तथा फसल के बारे में पूछा। दुष्यंत चौटाला ने हरियाणवी अंदाज में पूछा कि “ताई सब ठीक-ठाक, …अर फसल आच्छी सै के”। जिस पर ताई ने कहा कि दुष्यंत बेटा सब राजी सै और फसल भी आछी सै। 

कैथल के गांव धनोरी में खेत में थ्रेसर पर सरसों की फसल निकाल रहे किसान रोबिन की उस समय सारी थकावट दूर हो गई जब उनके फोन पर डिप्टी सीएम की वीडियो कॉल की घंटी बजी। किसान रोबिन जैसे ही वीडियो कॉल से जुड़ा तो हैरान होते हुए तुरंत उसने अपने साथ काम कर रहे किसानों को पास बुलाया। किसानों ने उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला से कहा कि उन्हें कटाई और कढ़ाई में तो कोई समस्या नहीं आ रही है लेकिन फसल के बिकने में किसानों को कोई समस्या नहीं आने चाहिए। जिसपर दुष्यंत चौटाला ने आश्वत किया कि सरकार किसानों को न फसल की कटाई, न फसल की खरीद और न ही आगामी  फसल के बीज की कमी आने देगी। 

गांव पोहकरवास हलका तोशाम के किसान बलजीत सांगवान ने दुष्यंत चौटाला से बात करते हुए कहा कि करोना महामारी व लॉकडाउन के मध्यनजर मंडियों में भीड़ कम करने व किसानों की परेशानी को देखते हुए इस बार टोकन मंडियों की जगह घर पर उपलब्ध करवाया जाए। जिस पर उप-मुख्यमंत्री ने किसान को बताया कि सरकार किसानों की सहूलियत देखते हुए टोकन फोन पर संदेश के माध्यम भेजने की प्लानिंग कर रही है । उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने इसी तरह पानीपत, करनाल, हिसार, झज्जर, महेंद्रगढ़ समेत कई जिलों में तीस से भी ज्यादा किसानों से बातचीत की।

Post a Comment

0 Comments