नगर निगम की लापरवाही देख पार्षद ब्रह्म यादव ने खुद लगाई रेन बसेरे में झाड़ू

निगम की घोर लापरवाही से दुर्व्यवस्था के बीच रहने को विवश हो रहे नागरिक

कादीपुर रेन बसेरा में रह रहे लोगों की दशा देख पार्षद ने लगाई अधिकारियों को फटकार स्वयं की भवन की सफाई और उपलब्ध कराए सैनिटाइजर व मास्क

गुड़गांव: टीम अजेयभारत: कोरोना वायरस ऐसी वैश्विक महामारी से जनता और देश को बचाने के लिए एक तरफ जहां केंद्र और प्रदेश सरकार द्वारा लोगों को राहत प्रदान करने के लिए तमाम योजनाएं लागू की जा रही हैं। वहीं इन योजनाओं को क्रियान्वित करने में नगर निगम और  जिला प्रशासन द्वारा घोर लापरवाही का परिचय दिया जा रहा है। इसका प्रमाण बुधवार को कादीपुर स्थित रैन बसेरा में दिखा जहां पूर्व से रह रहे 47 नागरिकों को गंदगी और प्रदूषित वातावरण के बीच रहना पड़ रहा था।

रैन बसेरा में रह रहे लोगों का हाल चाल पूछने अचानक मौके पर पहुंचे वार्ड 13 के पार्षद ब्रहम यादव ने लोगों की दशा देखकर चिंता व्यक्त की और मौके पर ही नगर निगम के अधिकारियों को फटकार लगाई। ब्रहम यादव ने बताया कि 2 दिन पूर्व उन्होंने रैन बसेरे का निरीक्षण कर दुर्व्यवस्थाओं से नगर निगम के सिटी प्रोजेक्ट ऑफिसर महेंद्र सिंह और नगर निगम के मेडिकल ऑफिसर को अवगत कराया था लेकिन कोई ध्यान नहीं दिया गया। 2 दिन बाद जब पार्षद पुनः रैन बसेरे में पहुंचे तो वहां रह रहे लोग उससे भी अधिक परेशानियों के बीच जीवन यापन करते दिखे।

रेन बसेरे में गंदगी भरी थी। लोगों को अच्छा और भरपेट भोजन तथा मास्क और सैनिटाइजर भी उपलब्ध नहीं कराया गया था। पार्षद ने इस पर अफसोस व्यक्त करते हुए स्वयं रेन बसेरे की विधिवत सफाई कराई और वहां रह रहे लोगों को मास्क और सैनिटाइजर उपलब्ध कराया। उन्होंने दोबारा नगर निगम के अधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर लोगों को बेहतर सुविधाएं उपलब्ध नहीं कराई गई तो इसकी शिकायत मुख्यमंत्री और प्रदेश सरकार से की जाएगी। 

कोरोना वायरस जैसे महामारी के संकट के दौरान नगर निगम की भूमिका राहत पूर्ण नहीं है। असहाय लोगों को सुविधाएं उपलब्ध कराने के नाम पर घोर लापरवाही और अनियमितता की जा रही है। व्हिस्की शिकायत प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल से की जाएगी।

ब्रहम यादव पार्षद, वार्ड 13, नगर निगम गुरुग्राम

Post a Comment

0 Comments