राजसमन्द रक्षक योजना 'मेरा गांव मेरी जिम्मेदारी’ की शुरुआत'

राजसमन्द रक्षक योजना की शुरुआत

‘मेरा गांव मेरी जिम्मेदारी’

राजसमन्द  जिला कलेक्टर अरविन्द कुमार पोसवाल ने कहा कि कोरोना को दो तरीकों से मात दी जा सकती है* एक तो सोशल डिस्टेंस की पालना तथा दूसरा मास्क का प्रयोग करने से हम कोरोना से दुर रह सकते है जिला कलेक्टर गुरुवार को राजसमंद पंचायत समिति की पीपली आचार्यन ग्राम पंचायत के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में अपने क्वॉरेंटाइन सेंटर में क्वॉरेंटाइन किए गए लोगों से बात कर रहे थे, इस अवसर पर उन्होंने कोरोनावायरस से बचाव की शपथ भी दिलाई। इस अवसर पर जिला कलेक्टर पोसवाल ने कोरोना वॉयरियर्स को बधाई दी तथा उन्होंने कहां कि आपकी कर्तव्यनिष्ठा के कारण ही राज्य संबंध जिले में अभी तक कोरोना वायरस के संक्रमण का अधिक फैलाव नहीं हुआ है

उन्होंने जानकारी दी कि राजसमंद जिले में जो भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं वे सभी लोग क्वॉरेंटाइन किए गए थे। इसलिए वायरस के संक्रमण को रोका जा सका। उन्होंने कहा कि नियमित रूप से सैनिटाइजेशन करना, अपने आसपास सफाई रखना तथा लोगों से घर पर ही रहने की अपील करना आदि माध्यम से इस बीमारी से बचा जा सकता है।
जिला कलेक्टर ने क्वॉरेंटाइन किए गए लोगों से संवाद किया तथा उनसे जानकारी ली  कि वह कहां से आए हैं और अब उन्हें जन्मभूमि पर आने में कैसा महसूस हो रहा है.

इस अवसर पर क्वॉरेंटाइन सेंटर में चाय नाश्ता भोजन आदि की व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी ली तथा पुख्ता व्यवस्थाओं के लिए पंचायत के सरपंच सहित प्रधानाचार्य आदि की प्रशंसा की इस अवसर पर समाजसेवी मनोहर कीर ने क्वॉरेंटाइन किए गए लोगों के लिए की जा रही व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी दी। उन्होंने क्वॉरेंटाइन किए गए लोगों से कहा कि तुम लोग हमारे ब्रांड एंबेसेडर हो। यहां से रिलीव होने के बाद आपको ग्रामीणों को यह समझाना है कि वह अपने घर पर ही रहे तथा इमरजेंसी कार्य होने पर ही अपने घरों से बाहर निकले।

यहां क्वॉरेंटाइन किए गए लोगों ने अपनी स्वेच्छा से इस पूरे विद्यालय परिसर की सफाई की इस अवसर पर अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ दिनेश राय सापेला, विकास अधिकारी भुवनेश्वर सिंह चौहान, अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी शिवकुमार व्यास उपस्थित थे

प्रत्येक पंचायत में 10 कोरोना प्रोटेक्टर तथा एक कमांडर नियुक्त होंगे। इन प्रोटेक्टर तथा कमांडर को टी-शर्ट तथा आईडी कार्ड जारी किए जाएंगे। इसकी शुरुआत आज राजसमंद पंचायत समिति की ग्राम पंचायत पीपली आचार्यन से हुई।

Post a Comment

0 Comments