मेयर मधु आजाद की अध्यक्षता में वीडियो कांफैंसिंग के माध्यम से हुई निगम सदन की बैठक


मेयर मधु आजाद की अध्यक्षता में वीडियो कांफैंसिंग के माध्यम से हुई निगम सदन की बैठक
-    बैठक में निगम पार्षदों द्वारा रखे गए एजेंडों को किया गया स्वीकृत



गुरूग्राम, 8 जून। मेयर मधु आजाद की अध्यक्षता में सोमवार को नगर निगम गुरूग्राम के सदन की सामान्य बैठक वीडियो कांफैंसिंग के माध्यम से आयोजित की गई। बैठक में निगम पार्षदों ने वीडियो कांफैंसिंग के माध्यम से अपने-अपने वार्डों से संबंधित मामले सदन के समक्ष रखे, जिन्हें सदन द्वारा स्वीकृति प्रदान की गई।


बैठक में सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया कि नगर निगम गुरूग्राम की जमीनों को कब्जा मुक्त करवाकर उन्हें प्री-फैब्रिकेटिड चारदीवारी से सुरक्षित किया जाए, ताकि भविष्य में उन पर दुबारा से कब्जा ना हो सके। इसके साथ ही ऐसे स्थान जहां पर लोग अनाधिकृत रूप से कचरा एवं मलबा डालते हैं, उन स्थानों पर भी इस प्रकार की चारदीवारी की जाएगी। कार्यकारी अभियंता विशाल गर्ग को इस कार्य के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। बैठक में सभी निगम पार्षदों से अनुरोध किया गया कि वे ऐसे स्थानों को चिन्हित करके जानकारी दें। यह मामला निगम पार्षद आरएस राठी द्वारा सदन में रखा गया था। बैठक में यह भी बताया गया कि सभी निगम पार्षदों को उनके वार्डों में बागवानी, विकास कार्य और सफाई कार्य को सुचारू रूप से चलाने के लिए तीन कर्मचारियों की स्वीकृति दे दी गई है। इसके लिए निगम पार्षदों ने मेयर एवं निगमायुक्त का धन्यवाद किया।


निगम पार्षदों द्वारा बैठक में सीवरेज एवं ड्रेनेज की पर्याप्त सफाई करवाने, सफाई व्यवस्था को और अधिक दुरूस्त करवाने, गलियों एवं सडक़ों की मरम्मत करवाने, डोर-टू-डोर कचरा उठान व्यवस्था को सही करवाने, वार्ड वाईज डिस्पैंसरी बनाने, वार्ड-2 में रेडक्रॉस की जमीन पर अस्पताल बनवाने, जिन स्थानों पर अंधेरा है वहां स्ट्रीट लाईटें लगवाने, निगम जमीनों से अतिक्रमण हटवाने, वाटर हारवैस्ंिटग प्रणाली को दुरूस्त करवाने, साईन बोर्ड एवं सीसीटीवी, कुत्ते एवं बंदरों की समस्या से निजात दिलवाने, विभिन्न सडक़ों एवं चौराहों का नामकरण, पेयजल आपूर्ति, फिरोजगांधी कॉलोनी-1 के जर्जर स्कूल भवन को ठीक  करवाने, कॉलोनी में डिस्पैंसरी बनाने, झाड़सा एवं कन्हैयी में पुस्तकालय बनवाने, विभिन्न निजी कॉलोनियों को टेकओवर करने सहित अग्रिशमन उपकरणों की तैनाती हेतु रेट निर्धारण करने संबंधी मुद्दों पर विचार-विमर्श किया गया।


बैठक में मेयर ने अधिकारियों से कहा कि सभी अधिकारी पार्षदों का पूरा सहयोग करें तथा जो भी जनहित से जुड़े हुए कार्य हैं, उन्हें जल्द करवाएं, ताकि आम जनता को इनका फायदा मिल सके। मेयर ने कहा कि गांव कादीपुर में पशुओं के सरकारी अस्पताल, जो कि जर्जर है, उसका जीर्णोद्धार करके उसमें कुत्ते एवं बंदरों के रखने की व्यवस्था भी की जा सकती है।


निगमायुक्त विनय प्रताप सिंह ने कहा कि कोविड-19 के तहत सामाजिक दूरी को ध्यान में रखते हुए निगम सदन की सामान्य बैठक वीडियो कांफैं्रसिंग के माध्यम से हुई है। उन्होंने बैठक में निगम पार्षदों द्वारा रखे गए मुद्दों पर जल्द कार्रवाई करने बारे अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिए।

इस मौके पर मेयर मधु आजाद, सीनियर डिप्टी मेयर प्रमिला कबलाना, डिप्टी मेयर सुनीता यादव, निगमायुक्त विनय प्रताप सिंह, अतिरिक्त निगमायुक्त सुरेन्द्र सिंह, अमरदीप जैन एवं महावीर प्रसाद, संयुक्त निगमायुक्त सतीश यादव, संजीव सिंगला एवं हरीओम अत्री, चीफ अकाऊंट ऑफिसर रमन शर्मा एवं एनडी वशिष्ठ सहित एसई सत्यवान ने सोशल डिस्टैंसिंग का पालन करते हुए नगर निगम के सभागार में उपस्थित होकर बैठक में हिस्सा लिया। वीडियो कांफ्रैंसिंग के माध्यम से निगम पार्षद मिथलेश बरवाल, शकुंतला यादव, रविन्द्र यादव, सुभाष सिंगला, आरएस राठी, विरेन्द्र राज यादव, महेश दायमा, अनूप सिंह, शीतल बागड़ी, योगेन्द्र सारवान, ब्रह्म यादव, संजय प्रधान, सीमा पाहुजा, अश्विनी शर्मा, धर्मबीर, सुनीता यादव, अश्विनी शर्मा, हेमन्त कुमार, कुलदीप यादव, कुलदीप बोहरा, आरती यादव, सहित निगम के अन्य अधिकारीगण बैठक में शामिल हुए।

Post a Comment

0 Comments