न्यायिक व्यवस्था में न्याय मिलने में देरी होना किसी अन्याय से कम नहीं:आचार्य आनन्दवल्लभगोस्वामी









वृन्दावन। ब्राह्मण सेवा संघ के तत्वावधान में स्थानीय मारुतिनगर स्थित सी. एल. शिशु शिक्षा निकेतन प्रांगण में बार एसोसिएशन  मथुरा अध्यक्ष सहित नव निर्वाचित पदाधिकारियों का भव्य स्वागत समारोह आयोजित किया गया।

इस अवसर पर बार के नव निर्वाचित  अध्यक्ष श्री सुशील शर्मा ने कहा कि अधिवक्ता का दायित्व होता है कि वे सदा जनता को न्याय दिलाकर समाज हित में समर्पित हो सेवाभाव से अपने कर्तव्य का पालन करे। नवगठित बार की टीम जहाँ अधिवक्ताओं के हित में कार्य करेगी वहीं जनता की न्यायिक समस्याओं के समाधान को भी सदैव तत्पर रहेगी।

नव नियुक्त सचिव श्रीसुनील चतुर्वेदी ने कहा कि हमारी नव निर्वाचित टीम गुरुजनों के आशीर्वाद का ही मंगल परिणाम है। ब्राह्मण सेवा संघ का यह कार्यक्रम स्वागत समारोह न होकर हमारे लिये वस्तुतः आशीर्वाद समारोह ही है।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए प. चन्द्रलाल शर्मा ने कहा कि अधिवक्ता के ऊपर समाज को सही और शीघ्र न्याय दिलाने की विशेष जिम्मेदारी होती है। आशा है नवगठित टीम इस ओर विशेष ध्यान देगी।

संचालन करते हुए ब्राह्मण सेवा संघ के अध्यक्ष आचार्य आनन्दवल्लभगोस्वामी ने कहा कि आज न्यायिक व्यवस्था में न्याय मिलने में देरी होना किसी अन्याय से कम नहीं। अधिवक्ताओं को चाहिये कि पीड़ित को शीघ्र न्याय प्राप्त हो सके, इसके लिये बार एसोसिएशन के द्वारा उचित प्रयास किये जाएं।

प. श्रीसत्यभान शर्मा एवं श्रीअशोक अज्ञ ने काव्य प्रस्तुति के माध्यम से अपने विचार रखे।

भगवान श्रीवामन के चित्रपट के सम्मुख दीप प्रज्वलन एवं पुष्पार्चन के साथ आरम्भ हुए समारोह में बार के नवनिर्वाचित अध्यक्ष श्रीसुशील शर्मा, उपाध्यक्ष श्रीश्यामसुंदर जादौन, सचिव श्रीसुनील चतुर्वेदी, संयुक्त सचिव श्री कृष्ण कुमार यादव, ऑडिटर श्री शैलेश दुबे तथा कोषाध्यक्ष श्रीप्रवीन शर्मा का उत्तरीय, माल्यार्पण एवं श्रीबिहारीजी का चित्रपट प्रदान करके सेवा संघ के सदस्यों द्वारा अभिनन्दन किया गया।

इस अवसर पर श्रीमहेश बाबा महाराज, महन्त श्रीप्रियाशरण, श्रीकृष्णचंद्र गौतम, श्रीचंद्रप्रकाश द्विवेदी, श्री बी. डी. सारस्वत, श्रीश्याम सुन्दर उपाध्याय, श्री जयप्रकाश सारस्वत, श्री रमेशचंद्र विधिशास्त्री, श्रीब्रजेन्द्रभाई कौशिक, श्रीरामजीवन शर्मा, श्रीमोहनलाल गौड़, श्री मुकेशमोहन शास्त्री, श्रीसतीश चन्द्र पाराशर, श्रीतपेश पाठक, श्रीनीरज शर्मा, श्रीआनन्दप्रकाश द्विवेदी, डॉ रूपकिशोर शर्मा, अनुपम वत्स, श्रीब्रजेशशर्मा, श्रीनरेंद्र शर्मा, श्रीअविनाश शर्मा, श्रीआदित्य शर्मा, श्रीसुमित गौतम, श्रीमुकेश चतुर्वेदी, श्रीमहेशचंद्र शर्मा, श्रीमनोज शर्मा, श्रीगोपाल शर्मा, श्रीआदित्य तिवारी, श्रीगौरव गुप्ता, श्रीसत्यवीर सिंह एवं श्री गोविंद बघेल आदि उपस्थित थे।

 

 

Post a Comment

0 Comments