श्रीदुर्गा रामलीला जैकबपुरा को फेसबुक पर ऑनलाइन देख रहे लोग

 जैकबपुरा में धूं-धंूकर जली दशानन की सोने की लंका

-हनुमान जी से मित्रता से लेकर लका दहन तक की लीला

-श्रीदुर्गा रामलीला जैकबपुरा को फेसबुक पर ऑनलाइन देख रहे लोग



गुरुग्राम। शबरी के झूठे बेर खाते हुए की लीला के बाद शुक्रवार को दिखाया कि भगवान राम ने उस वन को भी छोड़ दिया और आगे बढ़ गए। रास्ते में उन्हें ब्राह्मण के भेष में हनुमान जी मिले। जैकबपुरा स्थित श्री दुर्गा रामलीला के नौंवें दिन यहां से शुरुआत करके लंका दहन की तक की लीला का मंचन किया गया। हर साल हाइटेक होती जा रही इस रामलीला को इस बार फेसबुक पर भी ऑनलाइन ही दिखाया जा रहा है।     

आगे की लीला में दिखाया गया कि जब राम और लक्ष्मण ऋष्यमूक पर्वत के पास से गुजरते हैं तो उन पर सुग्रीव की नजर पड़ती है। सुग्रीव अपने भाई के छिपकर उस पर्वत पर रहते हैं। वे हनुमान जी से कहते हैं कि आप जाकर पता लगाओ कि वे कौन हैं। अगर वे बाली के भेजे हुए हों तो मैं तुरंत ही इस पर्वत को छोड़कर भाग जाऊंगा। यह सुनकर हनुमान जी ब्राह्मण का रूप धारकर उनके पास पहुंचे और पूछने लगे कि-हे वीर, आप कौन हैं, जो क्षत्रिय के रूप में वन में फिर रहे हैं। हम कोसलराज दशरथ जी के पुत्र राम-लक्ष्मण हैं। हम पिता का वचन मानकर वन आए हैं। हमारे साथ सुंदर सुकुमारी स्त्री थी। यहां वन में राक्षस ने मरी पत्नी जानकी को हर लिया है। हनुमान जी राम, लक्ष्मण को ऋष्यमूक पर्वत पर मंत्रियों सहित रह रहे वानरराज सुग्रीव के पास ले जाते हुए कहते हैं वे सीता जी की खोज करवा देंगें। इसी बीच सुग्रीव-बाली का युद्ध भी दिखाया गया और श्रीराम ने बाली को तीर मार कर मार डाला। बाली ने अपने बेटे अंगद को श्री राम को सौंप दिया। इसके बाद पूरी वानर सेना सीता जी को ढूंढने की तैयारी करने लगी। हनुमान जी लंका में सीता जी का पता लगाने अशोक वाटिका में पहुंच गए। सीता जी की ये बातें सुनकर रावण तलवार से उन्हें मारने दौड़ते हैं, इसी बीच वहां बैठी उनकी पत्नी मंदोदरी बीच में आकर कहती है कि औरत पर हाथ उठाना उन्हें शोभा नहीं देता। आगे की लीला में रावण और हनुमान के बीच दमदार संवाद होता है। इसके बाद रावण सजा के रूप में हनुमान जी की पूंछ में आग लगवा देते हैं। बंदर की तरह से ही उछल-कूद करते हुए हनुमान जी ने सारी लंका को जला दिया और समुद्र में जाकर अपनी पूछ में लगी आग बुझाई।

Post a Comment

0 Comments