बिगड़ती स्वास्थ्य सेवाओं पर विधायक सुधीर सिंगला ने पीएम मोदी, अमित शाह व जेपी नड्डा को लिखा पत्र

 बिगड़ती स्वास्थ्य सेवाओं पर विधायक सुधीर सिंगला ने पीएम मोदी, अमित शाह व जेपी नड्डा को लिखा पत्र


-मुख्यमंत्री मनोहर लाल से बात की, गृह मंत्री अनिल विज से की मुलाकात
-गुरुग्राम में स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर कही गई है बात

गुरुग्राम। कोरोना महामारी के बीच गुरुग्राम की बिगड़ती स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर विधायक श्री सुधीर सिंगला ने सरकार से तत्काल मदद मांगी है। उन्होंने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री जेपी नड्डा को पत्र लिखने के साथ प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल से बात की है और गृह मंत्री श्री अनिल विज से व्यक्तिगत रूप से मुलाकात करके यहां के हालातों से अवगत कराया है।

प्रधानमंंत्री श्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह व अध्यक्ष श्री जेपी नड्डा को लिखे गए पत्र में उन्होंने कहा कि यह पत्र गुरुग्राम में गंभीर और बिगड़ती कोविड स्थिति पर तत्काल मदद लेने के लिए है। गुरुग्राम अभूतपूर्व आपातकाल का सामना करते हुए जिले में बेड्स और ऑक्सीजन की भारी कमी है। जिला आईसीयू और वेंटिलेटर बिस्तर की क्षमता पूरी तरह से चरमराई हुई है। जिले में सरकार का चेहरा होने के नाते जनता लगातार उसने संपर्क कर रही है। विधायक सुधीर सिंगला ने लिखा है कि दिन-भर लोग टेलिफोन से व व्यक्तिगत रूप से उनके पास मदद को आते हैं। जिले को राज्य में चिकित्सा पर्यटन के केंद्र के रूप में प्रतिष्ठित होने के साथ अन्य निर्वाचन क्षेत्रों के विधायक और आरएसएस कार्यकर्ता भी लगातार मुझसे मदद मांग रहे हैं। गुरुग्राम जिले में चिकित्सा आपातकाल के समय में स्थानीय प्रशासन द्वारा तैयारियों से वे असंतुष्ट हैं। दुर्भाग्य से स्थानीय प्रशासनिक स्तर पर कोई संतोषजनक प्रतिक्रिया नहीं मिल पा रही। विधायक ने कहा कि पिछली सरकारों द्वारा जिले के निजी अस्पतालों को स्थानीय निवासियों को प्राथमिकता वाली सेवा की उम्मीद के साथ अत्यधिक रियायती दरों (1 रुपये प्रति गज) पर भूमि आवंटित की गई थी। शर्त यह रखी गई थी कि गरीबों को उपचार में छूट दी जाएगी। लेकिन वर्तमान महामारी के दौर में इसका पालन नहीं किया जा रहा है। गुरुग्राम में जिस तरह से निजी अस्पतालों की संख्या है, उस हिसाब से यहां की जनता को उच्च स्तरीय चिकित्सा सुविधाएं बिना देरी के मिलनी चाहिए। लेकिन यहां आम जनता से इनका कोई सरोकार नहीं है। सरकार इस पर विचार करके बिना देरी के सख्त कदम उठाए, ताकि बीमारियों से तड़प रही जनता को उचित उपचार देकर राहत पहुंचाई जाए।

इस मुद्दे पर तत्काल कार्यवाही करने का अनुरोध मुख्यमंत्री कार्यालय को भी किया गया है। इसके साथ ही रविवार को विधायक सुधीर सिंगला ने प्रदेश के गृह मंत्री अनिल विज से भी मुलाकात की। उन्हें गुरुग्राम की सारी स्थिति से अवगत कराया और अनुरोध किया कि जनता के हित में कुछ जरूरी कदम उठाएं, ताकि लोगों का जीवन बचाया जा सके। विधायक सुधीर सिंगला ने कहा कि हर एक निवासी की सुरक्षा सुनिश्चित करना मेरा कर्तव्य है। हम अपने स्तर पर सभी प्रयास कर रहे हैं, लेकिन आपका तत्काल हस्तक्षेप जिला प्रशासन के संबंधित अधिकारियों को इस तथ्य का संज्ञान लेने का निर्देश दें। जिले में इस तरह के महामारी के प्रबंधन में उनकी महत्वपूर्ण निर्णय लेने की भूमिका को समझें।  

Post a Comment

0 Comments