पत्रकारों के परिजनों को प्राथमिकता के आधार पर लगे वैक्सीनः सुधीर सिंगला

 पत्रकारों के परिजनों को प्राथमिकता के आधार पर लगे वैक्सीनः सुधीर सिंगला

- स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज से मुलाकात कर विधायक सुधीर सिंगला ने की मांग
- अनिल विज ने कहा जल्द ही वैक्सीनेषन कार्य का किया जाएगा और विस्तार

गुरुग्राम, 9 मई । गुड़गांव के विधायक सुधीर सिंगला ने प्रदेष के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज से मांग की कि पत्रकारों के परिजनों को प्राथमिकता के आधार पर कोरोना वैक्सीन लगाई जाए। क्योंकि इनके परिवार हाई रिस्क पर होते हैं। स्वास्थ्य मंत्री ने विधायक की इस मांग को सैधांतिक मंजूरी देते हुए इस बारे में षीघ्र फैसला लेने का आष्वासन दिया।



यहां पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में विधायक सुधीर सिंगला ने स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज से मुलाकात की। उन्होंने कोरोना काल में पेष आ रही दिक्कतों का विस्तार से ब्यौरा दिया तथा स्वास्थ्य अधिकारियों को और चुस्त दुरूस्त तरीके से काम करने के निर्देष देने की मांग की। विधायक ने बताया कि पिछले काफी समय से ऐसी दिक्कतें आ रही हैं कि कोरोना के साथ दूसरी बीमारियों से पीड़ित मरीजों को बेड व इलाज के लिए भटकना पड़ रहा है। इस स्थिति में स्वास्थ्य अधिकारियों का रवैया टरकाउ ही रहा। उन्होंने कहा कि अब स्थितियां कुछ सुधरी हैं और निजी संस्थान भी कोरोना पीड़ितों के इलाज के लिए आगे आए हैं। इस बीच उन्होंने वैक्सीनेषन का कार्य और व्यवस्थित तरीके से करवाने की गुजारिष की। उन्होंने बताया कि अभी वैक्सीन की दूसरी डोज लेने के लोगों को परेषानियों का सामना करना पड़ रहा है। इसलिए ऐसी व्यवस्था तैयार करवाने की मांग की कि जिससे 45 वर्श से अधिक आयु के लोगों को वैक्सीजन की दूसरी डोज व 18 से अधिक आयु के लोगों को पहली डोज लेने में परेषानियां न उठानी पड़े। विधायक ने कहा कि पत्रकारों का लोगों से सीधा संपर्क होता है और ये हाई रिस्क पर होते हैं। ऐसी स्थिति में इनके परिवार भी उच्च रिस्क पर आ जाते हैं। इसलिए पत्रकारों के परिजनों का भी प्राथमिकता के आधार पर टीकाकरण किया जाना चाहिए।

विधायक ने कहा कि पिछले दिनों की तुलना में कोरोना के हालातों में सुधार हुआ है। आने वाले दिनों में जिस तरह से वैक्सीनेषन का विस्तार किया गया उससे स्थितियां और दुरूस्त होंगी। साथ ही उन्होंने मांग की कि वैक्सीनेषन प्रत्येक आयु वर्ग के लोगों को करवाना निष्चित किया जाए ताकि संक्रमण का खतरा कम हो। 

स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने विधायक को आष्वासन देते हुए कहा कि इस पर गंभीरता से विचार कर प्राथमिकता के आधार पर फैसला लिया जाएगा। अनिल विज ने माना के कि पत्रकारों के सीधे लोगों से संपर्क में रहने के कारण उनके परिवारजनों के संक्रमण की चपेट में आने का खतरा ज्यादा रहता है। उन्होंने कहा कि वैक्सीनेषन के विस्तार के लिए चरणबद्ध तरीके से काम किया जा रहा है।

Post a Comment

0 Comments