महामारी में कांग्रेस का गुणगान करोगे तो सहायता मिलेगी: रमन मलिक

 महामारी में कांग्रेस का गुणगान करोगे तो सहायता मिलेगी: रमन मलिक

कांग्रेस की टूल किट राजनीति, देश के लिए घातक



गुरुग्राम।

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता रमन मलिक ने मंगलवार को कहा कि कांग्रेस और उसका पस्थितिकी तंत्र प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ राजनीतिक अंक हासिल करने के लिए सबसे बड़ी महामारी में भी ऐडी चोटी का दाव लगाने के लिए अवसर तलाश कर रहा है। जहां इस महामारी के समय में देश को बचाने के लिए हर नागरिक प्रयास कर रहा है, वहीं कांग्रेस पार्टी अपने दांव-पेंच लगा रही है। केवल प्रधानमंत्री को नीचा दिखाने के लिए लगातार प्रयासरत रह है। मलिक ने कहा कि मौतों पर खुशी मनाना, अंतरराष्ट्रीय प्रकाशनों द्वारा काउंटी को बदनाम करना और जानबूझकर गलत सूचना फैलाना कांग्रेस की फितरत बन चुका है। कांग्रेस के नेताओं ने पीएम केयर पर सवाल उठाए, विशेषज्ञों पर संदेह किया, टीका लगवाने वाले लोगों को भ्रमित किया गया। इसके अलावा महामारी में वेंटिलेटर विवाद का आविष्कार किया गया और इसी तरह इतिहास उन्हें उनके दुस्साहस के लिए जवाबदेह ठहराएगा। रमन मलिक ने कहा कि कांग्रेस को राजनीतिक गिद्धों की कला में महारत हासिल पार्टी है। अपनी राजनीति को फलने-फूलने के लिए, वे चाहते हैं कि भारत पीड़ित हो और खून बहाए।  भारत की हार में, वे अपने राजनीतिक पुनरुत्थान की तलाश करते हैं।  कांग्रेस का खुला टूलकिट उनके जहरीले और दयनीय अस्तित्व को दर्शाता है। भारतीयों को कोरोना से लड़ने में मदद करने के बजाय, कांग्रेस ने भारत विरोधी ताकतों, भारत विरोधी मीडिया से हाथ मिलाया और देश की सरकार के खिलाफ फैलाई गई खबरें और झूठा प्रचार गलत है

रमन मलिक ने कहा कि जिस तरीके से कांग्रेस की टूलकिट आज सार्वजनिक हुई, वह स्पष्ट रूप से दिखाता है कि कांग्रेस का एक मात्र उद्देश्य सत्ता पाने के लिए किसी भी कीमत को दे देना है। हमने आज ही इजरायल के विपक्षी नेता और भूत पूर्व रक्षा मंत्री इसराइल को सुना जहां उन्होंने स्पष्ट रूप से यह कहा कि राजनीति फिर भी होती रहेगी, लेकिन देश के लिए हम सब एक हैं और जरूरत पड़ने पर हम खुद युद्ध में उतरेंगे और इसराइल के लिए जो भी खतरा है उसको हटा देना चाहिए और विश्व की परवाह नहीं करनी चाहिए।

वही इस टूल किट में पाया जाता है कि वह बोल रहे हैं कि अपने जान पहचान के डॉक्टरों और अस्पतालों में कमरे रूप के रख लिए जाएं सामग्री रोक कर रखी जाए ताकि जब हम बोलें तब लोगों को दी जाए यह मानवता के खिलाफ अपराध है।मलिक ने कहा कि इस टूल किट के अंदर एक और जगह यह लिखा गया है कि अपने विषय को साधने के लिए  इसको इंडिया स्ट्रेन बुलाया जाए जबकि आज भी कोविड19 को हम चीनी वायरस नहीं बोलते। कांग्रेस की टूलकिट में आगे कहा गया है कि सोशल मीडिया पर इसको मोदी स्ट्रेन बुलाया जाए।  यह इनकी ओछी मानसिकता का एक उदाहरण है।

मलिक ने कहा कि इस टूल किट में अनेकों जगह यह कहा गया है कि विदेशी मीडिया में अपने विचारधारा वाले लोगों को जागरूक कर आ जाए उनको जो भी आवश्यकता हो वह दी जाए और श्मशानों की मौत की चित्रों को ज्यादा से ज्यादा प्रकाशित करा जाए।

उसमें आगे यह भी लिखा हुआ है कि बुद्धिजीवियों का प्रयोग करके विभिन्न जगहों पर आरटीआई के माध्यम से कोर्ट केस के माध्यम से संपादकीय के माध्यम से वह अन्य जो भी माध्यम उपलब्ध हैं उनसे सरकार की छवि धूमिल की जाए ताकि लोगों का विश्वास हटे।

मलिक ने बताया कि इस प्रकार की शब्दावली इस्तेमाल की जाए की गृहमंत्री गायब हैं, विदेश मंत्री कौन टाइम में है वित्त मंत्री को कुछ पता नहीं।  ग्राम अराजकता और वैमनस्य का माहौल तैयार करने के लिए जो कुछ भी करना हो उसको करा जाए।  लोकशाही  और अफसरशाही में रहे अपने लोगों को एक्टिवेट कर उनसे आरटीआई लेख और कोर्ट में विभिन्न प्रकार के केस डलवाए जाएं।

 अपने जीवन काल में मैंने मुद्दों की राजनीति देखी है और वहां से राजनीति का जो स्तर गिरता चला गया वह घोटाले की राजनीति बंटवारे की राजनीति और फिर गिर राजनीति बनी लेकिन आज इस टूल किट के बाहर आने से यह स्पष्ट हो गया है की हताशा इस प्रकार से है कांग्रेस की कि वह गद्दारी की राजनीति करने के लिए विवश हो चुकी है।

 इस टूल किट के आने के बाद उन सभी लोगों से जिनकी कांग्रेस में आता है एक ही प्रार्थना है कि आप अपनी आस्था को रखें लेकिन अगर आपके आस्था और देश के बीच में सुनने की स्थिति आ जाए तो फिर आपको क्या करना चाहिए यह आपके विवेक पर छोड़ता हूं।


Post a Comment

0 Comments