खेकड़ा के युवकों ने किया गौवंश का स्वंय इलाज

 खेकड़ा:- नगर में बेसहारा गौवंश बेतहाशा संख्या में हो गए हैं रोज आए दिन उनके चोटिल होने व भूख प्यास से मरने की खबरे आम हो गई है। 

खेकड़ा के समाजसेवी नितिन सिंघल ने एक गौवंश को घायल देखा तो उनसे रहा नही गया। उन्होंने अपने मित्र उत्तर प्रदेश पुलिस की सेवा में कार्यरत आशीष धामा एव वही आशीष के मित्र प्रिंस धामा को सम्पर्क किया और सामूहिक खर्च से गौवंश की मरहम पट्टी की व खाने को चारा दिया।इस बात की जानकारी प्राप्त होते ही नगर के आदेश धामा भी गौवंश की मरहम पट्टी व चारे की व्यवस्था कराने आए।

गौरतलब है कि यह घटना अस्थायी गौवंश आश्रय स्थल से मात्र 10 मीटर की है।

अजेय भारत की टीम की तरफ से ऐसे समाजसेवियों को दिल से सलाम।




Post a Comment

0 Comments