एक आवाज संस्था ने विश्व पर्यावरण दिवस पर लगाए पेड़

 एक आवाज संस्था ने पर्यावरण दिवस पर लगाए पेड़



-राहगिरों को भी पेड़ लगाने को किया प्रेरित 

गुरुग्राम। पर्यावरण को समर्पित एक आवाज संस्था ने शनिवार को विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर न्यू कालोनी मोड़ पर सड़क के मध्यांतर डिवाइडर पर पेड़ लगाकर पर्यावरण सुधार की दिशा में काम किया। साथ ही लोगों को भी प्रेरित किया कि वे अपने जीवन में विशेष मौकों पर पेड़ लगाएं, ताकि उनसे मिलने वाली ऑक्सीजन से हम सब स्वस्थ रह सकें। 

संस्था के संस्थापक ट्रस्टी विकास गुप्ता, राज सैनी बिसरवाल, आशीष गुप्ता, राजेश सैनी ने आमजन से आह्वान किया कि वे पेड़ों की संख्या बढ़ाने के लिए और पेड़ लगाएं, ताकि हमारा जीवन सुरक्षित हो सके। उन्होंने कोरोना महामारी के दौर का हवाला देते हुए कहा कि यह हम सबने देखा कि ऑक्सीजन की कमी के कारण कितने लोगों की जान गई, कितने लोग परेशान रहे। पैसे देकर भी ऑक्सीजन नहीं मिल पा रही थी। अगर हम पेड़ लगाते हैं तो हमें निशुल्क ऑक्सीजन मिलेगी। वह भी कहीं से लानी नहीं पड़ेगी। इसलिए हमें पर्यावरण सुधार के लिए अधिक से अधिक पेड़ लगाने चाहिए। साथ ही उन्होंने प्रसाशन/सरकार से भी अपील की के शहर में होने वाले विकास के नाम पर चढ़ रहे पेडो की बली को रोका जाए। पेड़ काटने की बजाए उन्हें ट्रान्सप्लांट किया जाना चाहिए।

उन्होंने यह भी कहा कि कोरोना के बुरे समय को देखते हुए आमजन काफी जागरुक हुआ है। संस्था द्वारा चलाए गए इस अभियान में कई सामाजिक लोगों ने पहुंचकर खुद पेड़ लगाए डा. एसपी गुप्ता, अन्नू यादव, दीपक, सन्नी आदि ने विशेष तौर पर पेड़ लगाए समाजसेवी मोहन मीत्रा ने भीम कालोनी में अपने यहाँ पढ़ने वाले स्कूल के बच्चों को पेडो का महत्व बताते हुए पेड़ लगवाए। इस मौके पर पर्यावरण रक्षक हितेश सैनी, संजय गुप्ता, अरुण सैनी, मनोज प्रजापत, जय अत्री, जय सैनी, पंकज गुप्ता, विक्रम सैनी, प्रदीप तंवर, धर्मवीर, अमित, विश्वास, विशु आदि मौजूद रहे। पेड़ लगाने के दौरान वहां के स्थानीय दुकानदार डाईट हाउस से कृष्ण कुमार व फ्रेंच आमलेट से दीपक ने रोपे गए सभी पेड़ों को गोद लेने की बात कही। वे रोजाना इनकी देखरेख करेंगे। खाद-पानी देंगे।  इसी समय टीम को देख कर वहीं बैठी एक महिला जो वहां मटके बेचती है वो भी आई और उन्होंने एक नींबू का पेड़ देकर वहां लगवाया ओर उन्होंने कहा कि मैं इनकी देख रेख करूंगी ओर रोज पानी भी दूंगी। टीम के सदस्य अरुण सैनी ने कहा कि ऐसी ही जागरूकता की जरूरत आज हर किसी को है।

Post a Comment

0 Comments