मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने विडियों कॉफ्रेंस के माध्यम से राज्य स्तरीय उद्घाटन एवं शिलांयास समारोह में करोड़ों रूपए की लागत से बनने वाली विभिन्न परियोजनाओं का किया शुभारंभ। कृषि मंत्री जेपी

 मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने विडियों कॉफ्रेंस के माध्यम से राज्य स्तरीय उद्घाटन एवं शिलांयास समारोह में करोड़ों रूपए की लागत से बनने वाली विभिन्न परियोजनाओं का किया शुभारंभ। 

कृषि मंत्री जेपी दलाल ने जिला की दो परियोजनाओं का किया लोकार्पण।



मूलभूत सुविधाओं पर हजारों करोड़ रूपये की धनराशि खर्च कर निर्माणाधीन परियोजनाओं के पूरा होने के बाद भिवानी जिला विकास के मामलें में होगा अग्रणी-कृषि मंत्री जेपी दलाल

विपक्षी दलों द्वारा भ्रामक प्रचार करके किसानों को किया जा रहा है बरगलाने का काम -कृषि मंत्री जेपी दलाल

भिवानी, 10 जून।    हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने वीरवार को हरियाणा निवास चण्डीगढ़ से विडियों कॉफ्रेंस के माध्यम से राज्य स्तरीय उद्धाटन एवं शिलांयास समारोह में करोड़ों रूपए की लागत से बनने वाली विभिन्न परियोजनाओं का उद्घाटन/शिलांयास किया। प्रदेश के विभिन्न 17 जिला मुख्यालयों पर आयोजित हुए, विडियों कॉफ्रेंस के कार्यक्रम में संबंधित जिलों के मंत्रियों व सांसदों द्वारा परियोजनाओं का उद्घाटन /शिलांयास किया गया। मुख्यमंत्री एवं मंत्रियों द्वारा प्रदेश में 1170 करोड़ रूपए की 98 परियोजनाओं का उद्घाटन /शिलांयास किया गया।

    मुख्यमंत्री ने हरियाणा निवास से अपने संबोधन में कहा कि गत 6.5 वर्ष के दौरान प्रदेश में हरियाणा एक-हरियाणवी एक को आधार मानकर योजनाबद्ध ढंग से विकास कार्य करवाएं जा रहे हैं। इसी कड़ी में वीरवार को 1170 करोड़ रूपए की लागत से बनने वाली 98 परियोजनाओं का शुभारम्भ किया गया हैं। ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में योजनाबद्ध ढंग प्राथमिकता के आधार पर करवाएं जा रहे विकास कार्यो से प्रदेश का प्रत्येक नागरिक प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से लाभान्वित हुआ हैं। उन्होंने कहा कि केंद्र एवं राज्य सरकार प्रदेश के किसानों की आय दोगुनी करने के लिए कारगर कदम उठा रही हैं। सरकार द्वारा किसान हितैशी अनेक योजनाएं एवं कार्यक्रम शुरू किए गए हैं। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधी योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, भावान्तर भरपाई योजना, तथा प्रधानमंत्री सिंचाई योजना  जैसी अनेक योजनाए शुरू की गई है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार लोने के दृष्टिगत विभिन्न 16 फसलों के न्यूनतम समर्थन मुल्य में बढ़ोतरी की गई है। 

मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि पानी के लेवल को मध्यनजर रखते हुए किसानों को टयूबल कैनेक्शन देने के लिए नए मापदंड निर्धारित किए गए है। उन्होंने कहा कि किसानों को पर्याप्त मात्रा में नहरी पानी उपलब्ध करवाने के लिए भी हर संभव प्रयास किए जा रहे है। लोगों को प्रर्याप्त मात्रा में पीने का पानी उपलब्ध करवाने के लिए करोड़ों रूपये की लागत से बनने वाली विभिन्न परियाजनाओं पर कार्य चल रहा है। उन्होंने शिक्षा, स्वास्थ्य सेवाएं, सडक़ निर्माण, बिजली सहित विभिन्न परियोजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी। 

प्रदेश के कृषि एवं पशुपालन मंत्री जेपी दलाल ने कार्यक्रम के दौरान सात करोड़ 10 लाख रूपये की लागत से नवनिर्मित सीएचसी कैरू तथा पीएचसी झुप्पा कलां के भवन का विधिवत रूप से उद्घाटन किया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा प्रदेश के लोगों को बेहतर चिकित्सा सुविधाएं मुहैया करवाने के लिए विभिन्न योजनाएं एवं कार्यक्रम शुरू किए गए हंै। सरकार द्वारा कोविड-19 को नियंत्रित करने के लिए जिला स्तर पर पर्याप्त मात्रा में संसाधनों का समुचित प्रबन्ध किया गया। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर प्रबन्ध एवं समन्वय स्थापित करने के लिए राज्य सरकार द्वारा उनको जिला भिवानी एवं चरखी दादरी क्षेत्र का प्रभारी मंत्री नियुक्त किया गया। इस दौरान उन्होंने संक्रमण से प्रभावित लोगों के लिए ऑक्सीजन सिलेण्डर, ऑक्सीजन कैंसेंट्रेटर, ऑक्सीजन बेड, वेंटिलेटर, आईसीयू बेड तथा मैडिसन आदि का समुचित प्रबन्ध करवाया। इस कार्य में प्रशासनिक अधिकारियों, स्वास्थ्य विभाग, सामाजिक संगठनों, स्वयं सेवी संस्थाओं तथा जन प्रतिनिधियों का महत्वपूर्ण योगदान रहा। सभी के सहयोग से जिलों में कोरोना संक्रमण पर काबू पा लिया गया है। उन्होंने क्षेत्र के लोगों से अनुरोध किया है कि वे स्वास्थ्य विभाग द्वारा किए जा रहे टीकाकरण कार्यक्रम के दौरान वैक्सीन अवश्य लगवाएं तथा अन्य लोगों के भी वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित करें।

    कृषि मंत्री ने कहा कि जिले में जल स्तर गहरा होता जा रहा है। इसलिए सभी किसानों को सरकार की सुक्ष्म सिंचाई प्रणाली को अपनाकर मूंग, अरहर, अरंड, मुंगफली आदि की खेती करनी चाहिए। इसके लिए सरकार शीघ्र ही किसानों के लिए प्रोत्साहन योजना शुरू करने जा रही है। इन फसलों से एक और भूमि की ऊर्वरा शक्ति में बढ़ोतरी होगी वहीं किसानों की पैदावार एवं आमदनी में भी इजाफा होगा। किसानों द्वारा इन फसलों की बिजाई करने पर उनके खाते में प्रोत्साहन स्वरूप राशि डाली जाएगी व उत्तम किस्म के बिज भी उपलब्ध करवाएं जाएंगें। उन्होंने कहा कि सरकार सरकार द्वारा प्रत्येक एकड़ के लिए सोयल हैल्थ कार्ड बनाए जाएंगें। इससे किसान अपनी फसलों में आवश्यकता अनुसार रासायनिक उर्वरक डाल सकेंगें। 

    श्री दलाल ने बताया कि किसानों को पर्याप्त मात्रा में नहरी पानी उपलब्ध करवाने के लिए  विभिन्न नहरों एवं माईनरों की रिमोडलिंग का निर्माण कार्य प्रगति पर है। उन्होंने कहा कि लोगों को यातायात की बेहतर सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए सडक़ों का जाल बिछाया जा रहा है। इसके अतिरिक्त अनेक रेलवे ओवरब्रीज का निर्माण कार्य भी प्रगति पर है। ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में प्राथमिकता के आधार पर जलघरों का निर्माण करवाया जा रहा है ताकि लोगों को पीने का पानी पर्याप्त मात्रा में मिल सके।  उन्होंने बताया कि प्रदेशभर में कोरोना वायरस संक्रमण के दौरान पशुपालन विभाग द्वारा 50 लाख से अधिक पशुओं को मुँहखूर/गलघोटू की बीमारी से बचाने के लिए टीकाकरण किया गया। सरकार द्वारा पशुपालन को बढ़ावा देने की नीति के फलस्वरूप आज हरियाणा देशभर में दूसरे स्थान पर है।

स्थानीय विधायक घनश्याम दास सर्राफ ने अपने संबोंधन में कहा कि राज्य सरकार द्वारा प्रदेश में सबका साथ-सबका विकास को आधार मानकर विकास कार्य करवाए जा रहे है। उन्होंने कहा कि भिवानी जिला के लोगों के लिए सीएचसी कैरू एवं पीएचसी झुप्पा कलां के उद्घाटन होने से क्षेत्र के ग्रामीणों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध हो सकेगी। 

उपायुक्त जयबीर सिंह आर्य ने कृषि मंत्री श्री दलाल से जिला में कोविड-19 के दौरान सराहनीय कार्य करने वाले जिला के विभिन्न विभागों के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को सम्मानित करवाया। सम्मानित होने वाले अधिकारियों में हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड के सचिव राजीव प्रसाद, जिला राजस्व अधिकारी राजकुमार, एडीए इन्द्रजीत, उप सिविल सर्जन डॉ प्रवीण, डॉ मोनिका, डॉ आशिष सांगवान, डॉ अशोक सांगवान, डॉ. वेदपाल, उपायुक्त कार्यालय में सहायक शिव कुमार, आशुलिपिक कैलाश, कम्प्यूटर ऑप्रेटर अमन, उप अधीक्षक जयभगवान, आरआईसीटी प्रबंधक संजय कामरा, नगर परिषद से सतबीर सिंह, पुरूषोत्म, प्रवीण, दलबीर व संदीप, स्वास्थ्य विभाग में कार्यरत स्टाफ नर्स पिंकी, कमलेश लाठर, शकुंतला, नरेश खरसू, रेनू, फार्मेसी अधिकारी अनील कुमार, मंजीत, संजय कुमार, कुलदीप मालोडिया, रणबीर सिंह, सफाई कर्मचारी रानी, सुशिल, गीता, राजबीर, प्रवीण, वार्ड सर्वेंट हनुमान, करमजीत, कमल, सिकन्दर, सचिन, सुरेन्द्र, ऐम्बुलेंस चालक राज कुमार शामिल है। 

बॉक्स

कृषि मंत्री जेपी दलाल तथा उपायुक्त जयबीर सिंह आर्य ने  पत्रकारों को किया संबोधित

    वीरवार को लघु सचिवालय स्थित डीआरडीए सभागार में आयोजित पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कृषि मंत्री जेपी दलाल ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा लोगों को बिजली, पेयजल, सिंचाई, स्वास्थ्य सेवाएं, सिवरेज व्यवस्था, शिक्षा, कृषि व बागवानी तथा सडक़ निर्माण जैसी मूलभूत सुविधाए प्रदान करने के लिए जिला भिवानी में हजारों करोड़ रूपये की धनराशि खर्च की जा रही है। उन्होंने बताया कि निर्माणाधीन परियोजनाओं के पूरा होने के पश्चात भिवानी जिला विकास के मामलें में अग्रणी स्थान पर होगा।

    कृषि मंत्री श्री दलाल ने बताया कि सरकार द्वारा प्रदेश में गेंहु की रिकार्ड खरीद की गई। उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार द्वारा खरीफ फसलों के लिए एमएसपी मूल्य में बढ़ौतरी की गई है, ताकि किसानों की आर्थिक स्थिति को सुदृढ़ किया जा सके। विपक्षी दलों द्वारा भ्रामक प्रचार करके किसानों को बरगलाने का काम किया जा रहा है। जबकि वर्तमान सरकार द्वारा किसानों की आय दोगुनी करने के लिए विभिन्न योजनाओं एवं कार्यक्रमों को लागू किया गया है। उन्होंने कहा कि सरकार ने प्रत्येक वर्ग के हित में अनेक योजनाएं लागू की है जिससे उनको सीधा फायदा हुआ है। 

    इस अवसर पर उपायुक्त जयबीर सिंह आर्य ने कोविड-19 के दृष्टिगत जिला प्रशासन द्वारा किए गए समुचित प्रबंधों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान कृषि एवं पशुपालन मंत्री जेपी दलाल के मार्गदर्शन में संक्रमित रोगियों को हर संभव सुविधाएं उपलब्ध करवाई गई। उन्होंने बताया कि संक्रमित व्यक्ति जो होम आईसोलेट हुए उनको  स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोविड किट उपलब्ध करवाने के अतिरिक्त जिला रेडक्रास सोसायटी के माध्यम से जरूरतमंद लोगों को ऑक्सीजन सिलेण्डर भी उपलब्ध करवाए गए। उन्होंने कहा कि  राज्य सरकार के निर्देशानुसार जिला के 272 गावों व शहरी क्षेत्रों में अलग-अलग टीमें गठित करके 12 लाख 20 हजार से अधिक लोगों की सक्रिनिंग/सैम्पलिंग की गई। इस दौरान 14 हजार से अधिक व्यक्ति संदिग्ध पाए गए। जिनकी जांच के पश्चात संक्रमित पाए गए व्यक्तियों को बेहतर चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करवाई गई। उन्होंने बताया कि ब्लैक फंगस को नियंत्रित करने के लिए हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड परिसर में कंट्रोल रूम स्थापित किया गया। कोरोना की दूसरी लहर के  दौरान कितलाना टोल प्लाजा पर धरनारत किसानों की जांच करने के अतिरिक्त वैक्सीन भी लगाई गई।

    इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक अजीत सिंह शेखावत, अतिरिक्त उपायुक्त राहुल नरवाल, एसडीएम संदीप अग्रवाल, नगराधीश हरबीर सिंह, सिविल सर्जन डॉ सपना गहलावत, उप सिविल सर्जन डॉ. कृष्ण कुमार के अलावा भाजपा के जिला प्रधान शंकर धूपड़, जेजेपी के जिला प्रधान विजय गोठडा, पूर्व विधायक शशिरंजन परमार, ठाकुर विक्रम सिंह, हर्षवर्घन मान, बृजपाल तंवर, मीना परमार, नन्दकिशोर अग्रवाल, रविन्द्र मंढोली, जेपी दूबे सहित अनेक पार्टी पदाधिकारी एवं विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments