श्री राम जानकी सेवा संगठन ने किया पर्यावरण जागरुकता अभियान का शुभारंभ।

 श्री राम जानकी सेवा संगठन ने किया पर्यावरण जागरुकता अभियान का शुभारंभ।





छायंसा गांव में स्थित शिव मंदिर से श्री राम जानकी सेवा संगठन के सेवकों ने पर्यावरण जागरुकता अभियान का शुभारंभ किया। संगठन के सेवकों ने इस अवसर पर मंदिर के प्रांगण में नीम, पीपल, जामुन, आदि के पौधों का रोपन किया एवं पर्यावरण के प्रति सभी लोगों को जागरुक किया।

इस अवसर पर संगठन के संस्थापक श्री अजय शर्मा जी ने अपने संबोधन में कहा कि निरंतर रूप से बढ़ती हुई गाड़ियों व उद्योग के कारण हवा बहुत दूषित हो चुकी है, जिसके कारण बहुत सारी सांस और फेफड़ों की बीमारियों में वृद्धि हुई है। यह सब इसी तरह चलता रहा तो वह दिन दूर नहीं जब वातावरण की हवा हमारे सांस लेने योग्य भी नहीं रहेगी अतः पर्यावरण को स्वच्छ रखने की जिम्मेदारी इस देश के प्रत्येक व्यक्ति की है जब तक इस देश का हर नागरिक पर्यावरण के प्रति जागरुक नहीं होगा तब तक पर्यावरण को शुद्ध एवं प्रदूषण रहित नहीं किया जा सकता। इसी दिशा में कार्य करते हुए श्री राम जानकी सेवा संगठन ने इस पर्यावरण जागरूकता अभियान की शुरुआत की है जिससे कि अधिक से अधिक लोगों को पर्यावरण के प्रति जागरूक किया जा सके एवं देश को प्रदूषण रहित बनाया जा सके। श्री राम जानकी सेवा संगठन पर्यावरण को स्वच्छ रखने के लिए इस तरह के पर्यावरण जागरूकता अभियान व वृक्षारोपन कार्यक्रम का आयोजन समय-समय पर करता है और भविष्य में भी करता रहेगा। इस महत्वपूर्ण कार्य के लिए संगठन ने श्री बसंत शर्मा जी को अभियान प्रमुख बनाया है एवं संगठन भविष्य में जो भी पर्यावरण संबंधी कार्यक्रम का आयोजन करेगा वो ही उन सभी कार्यक्रम का संचालन करेंगे


गांव छायंसा से श्री प्रशांत कुमार, श्री अस्वनी भाटी, श्री रामपाल भाटी, श्री धर्मेन्द्र सिंह, श्री रामकुमार भाटी, श्री अरुण भाटी एवं श्री देवेंद्र धन्वन्तरि ने पौधारोपन कार्य में अपना बहुमूल्य सहयोग दिया एवं जगह जगह पौधरोपन करके संगठन के सेवकों को आश्वस्त किया कि वे भी इस अभियान में संगठन का सहयोग करेंगे एवं जिन पौधों का रोपन आज किया जा रहा है उनकी देखभाल भी वे स्वयं ही करेंगे।

Post a Comment

0 Comments