अश्लील मैसेज भेजने वाले जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी का हुआ तबादला।

 अश्लील मैसेज भेजने वाले जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी का हुआ तबादला।



अतिरिक्त उपायुक्त को दिए गए लिखित जवाब में अश्लील मैसेज भेजने की बात कबूल की।


नूंह (न्यूज़)। अंग्रेजी प्राध्यापिका को अश्लील मैसेज भेजने वाले जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी अनूप सिंह जाखड़ का तबादला अम्बाला कर दिया गया है। ज्ञात रहे कि वर्ष 2015 में अनूप सिंह जाखड़ खंड शिक्षा अधिकारी हुआ करते थे और उन्होंने उस समय आरोही मॉडल स्कूल में कार्यरत अंग्रेजी प्राध्यापिका को अश्लील मैसेज भेजे थे। अंग्रेजी प्राध्यापिका को अश्लील मैसेज भेजने के मामले की जांच अतिरिक्त उपायुक्त नूंह द्वारा की जा रही है। 

डॉ सुलक्षणा ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि अतिरिक्त उपायुक्त महोदया को 28 जून को दिए गए लिखित जवाब में अनूप सिंह जाखड़ ने माना है कि मैसेज उन्हीं के द्वारा भेजे गए हैं। उन्होंने बताया कि 2015 से वो इस मामले को उठाती आ रही हैं तथा न्याय मिलने की उम्मीद लगाए बैठी हैं। वहीं अनूप सिंह जाखड़ के तबादले से जिले के शिक्षकों में खुशी की लहर है। वहीं इदरीश खान ने बताया कि अनूप सिंह जाखड़ नूंह के सबसे भ्रष्ट शिक्षा अधिकारी हैं और निदेशालय स्तर पर भी इनके विरुद्ध जांच चल रही है। 

नूंह जिले में कार्यरत अधिकतर शिक्षक इनके तबादले से खुश हैं तथा उन्होंने जिला उपायुक्त, जिला शिक्षा अधिकारी से मांग की है कि अनूप सिंह जाखड़ को जल्द से जल्द कार्यभार मुक्त किया जाए। उन्होंने बताया कि अनूप सिंह जाखड़ का तबादला भी उच्च अधिकारियों द्वारा इसीलिए किया गया है कि अनूप सिंह अपने पद का दुरुपयोग करके अपने खिलाफ हो रही जांचों को प्रभावित कर रहा था। पिछले 6 सालों से अपनी ऊंची पहुंच व रसूख के कारण अनूप सिंह ने नूंह को अपने भ्रष्टाचार का अड्डा बना रखा था। अशोक कुमार इएसएचम की बेवजह चार महीनों की तनख्वाह रोक रखी है दूसरी ओर अनूप सिंह जाखड़ द्वारा जीशान अली प्राथमिक अध्यापक को बेवजह एक महीने में दो बार सस्पेंड किया गया है। अनूप सिंह जाखड़ अपनी ऊंची पहुंच के चलते हुए निदेशालय के आदेशों की भी अवेहलना करते आ रहा है। जिसके कारण कई बार स्पष्टीकरण भी निकल चुके हैं। जब से इनके तबादले के आदेश जारी हुए हैं तब से नूंह जिले के अध्यापकों में खुशी की लहर है।

Post a Comment

0 Comments