गुरूग्राम के एक क्षेत्र को इलैक्ट्रिक व्हीकल जोन बनाने की योजना पर होगा काम शुरू

 गुरूग्राम के एक क्षेत्र को इलैक्ट्रिक व्हीकल जोन बनाने की योजना पर होगा काम शुरू

- नगर निगम गुरूग्राम के आयुक्त मुकेश कुमार आहुजा की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में हुई चर्चा
- बैठक में इलैक्ट्रिक व्हीकल को बढ़ावा देने की योजना को अमलीजामा पहनाने के बारे में हुई चर्चा



गुरूग्राम, 8 जुलाई। नगर निगम गुरूग्राम के आयुक्त मुकेश कुमार आहुजा की अध्यक्षता में शुक्रवार को आयोजित एक विशेष बैठक में गुरूग्राम के एक क्षेत्र को इलैक्ट्रिक व्हीकल जोन बनाने की दिशा में विभिन्न स्टेक होल्डर्स के साथ चर्चा हुई। बैठक में इलैक्ट्रिक व्हीकल को बढ़ावा देने की योजना को अमलीजामा पहनाने के लिए निगमायुक्त द्वारा संबंधित अधिकारियों को जिम्मेदारियां दी गई।

बैठक में बताया गया कि पुराने डीजल ऑटो के स्थान पर इलैक्ट्रिक ऑटो शुरू करने के लिए प्रोजैक्ट परिवर्तन के तहत नगर निगम गुरूग्राम कार्य कर रहा है। इसमें सबसे महत्वपूर्ण भूमिका यातायात पुलिस द्वारा निभाई जानी है। यातायात पुलिस द्वारा एक विशेष अभियान चलाकर प्रस्तावित इलैक्ट्रिक व्हीकल जोन के डीजल ऑटो मालिकों को इलैक्ट्रिक व्हीकल अपनाने के लिए जागरूक किया जाएगा। अभियान के तहत उन्हें इलैक्ट्रिक व्हीकल अपनाने के फायदों की जानकारी दी जाएगी। बताया गया कि इलैक्ट्रिक व्हीकल अपनाने पर नगर निगम गुरूग्राम तथा फेम इंडिया योजना के तहत 60 से 65 हजार रूपए की सबसीडी दी जाएगी तथा बैंकों के माध्यम से शेष बची राशि का लोन दिलवाया जाएगा। इलैक्ट्रिक व्हीकल जोन में पर्याप्त संख्या में चार्जिंग स्टेशन होंगे, जहां पर व्हीकल को चार्ज करने की सुविधा होगी। पुराने डीजल ऑटो को स्क्रैप करवाने की राशि भी संबंधित ऑटो मालिक को ही मिलेगी। इसके साथ ही पर्यावरण संरक्षण की दिशा में यह एक महत्वपूर्ण कदम है।

निगमायुक्त ने नगर निगम गुरूग्राम के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे प्रस्तावित इलैक्ट्रिक व्हीकल जोन में चार्जिंग स्टेशन बनाने के लिए जगह चिन्हित करें। स्मार्ट-ई के प्रतिनिधियों ने निगमायुक्त को बताया कि प्रस्तावित जोन में मौजूदा समय में भी चार्जिंग स्टेशन स्थापित किए हुए हैं। आवश्यकतानुसार चार्जिंग स्टेशनों की संख्या को बढ़ाया जा सकता है। निगमायुक्त ने कहा कि प्रथम चरण में डीजल ऑटो चालकों एवं मालिकों को इलैक्ट्रिक व्हीकल अपनाने के लिए जागरूक करें। इसके बाद यातायात पुलिस द्वारा इंपाऊंड की कार्रवाई शुरू की जाएगी।

बैठक में बताया गया कि पायलेट प्रोजैक्ट के तहत साइबर सिटी से गोल्फ कोर्स रोड़, एमजी रोड़ मैट्रो स्टेशन, इफ्को चौक, हुडा सिटी सैंटर, ग्लेरिया मार्केट, साईबर पार्क, सुभाष चौक आदि क्षेत्र शामिल करके इलैक्ट्रिक व्हीकल जोन बनाने की योजना प्रस्तावित है।

बैठक में नगर निगम गुरूग्राम की अतिरिक्त आयुक्त जसप्रीत कौर, संयुक्त आयुक्त हरीओम अत्री, एसीपी ट्रैफिक रमेश कुमार, डीटीओ विरेन्द्र, कार्यकारी अभियंता देवेन्द्र भड़ाना तथा स्मार्ट-ई के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments