बागपत जिले के बड़ा गांव में 15 अगस्त की रात्रि हुए बवाल का अल्पसंख्यक आयोग ने संज्ञान लिया

 त्रिलोकतीर्थ धाम बडागांव बावल मामले में  70- 80  अज्ञात पर मुकदमा,

अल्पसंख्यक आयोग सदस्य ने ली जानकारी 


सचिन त्यागी (बागपत)


बागपत जिले के बड़ा गांव में 15 अगस्त की रात्रि हुए बवाल का अल्पसंख्यक आयोग ने संज्ञान लिया है। मंगलवार को आयोग के सदस्य बागपत पहुंचे और एसपी बागपत से कड़ी कार्रवाई करने के लिए कहा है। 

खेकडा के बडागांव प्रकारण को लेकर अल्पसंख्यक आयोग के सदस्य सुरेश चंद जैन, ऋतुराज त्रिलोक आदि ने मंदिर पहुंचकर मंगलवार को घटना की जानकारी ली है। मामले में 70 से 80 अज्ञात लोगों को बवाल के लिए जिम्मेदार ठहराया गया है। पुलिस ने मंदिर परिसर में लगे सीसीटीवी कैमरे भी खंगाले है जिनकी मदद से आरोपियों की पहचान की जा रही है। बता दे रविवार की रात्रि एक मुश्लिम युवक ने मंदिर के पास बियानी की ठेली लगा रखी थी जिस पर वह जैन शिकंजी बेच रहा था। इसका विरोध जैन समाज ने किया तो उनकी बसों पर पैट्रोल बंम डालकर महिलाओं और बच्चों को जिंदा जलाने का प्रयास किया गया। पथराव में कई लोग घायल हो गये थे। 


अल्पसंख्यक आयोग को दी घटना की जानकारी 

 बडागांव मंदिर पर हुए बवाल की जानकारी देते हुए चश्मदीद श्रद्धालु अंशु जैन ने बताया कि बसों पर पथराव किया गया, फायरिंग हुई, महिलाओं और बच्चों को पेट्रोल बम फेंक कर जलाने का प्रयास किया गया। अगर मौके पर एक दरोगा न पहुंचते तो उनकी जान बचनी मुश्किल थी। 

संगीन धाराओं में मुकदमा हुआ दर्ज 

घटना में घायल हुए बड़ौत निवासी नीरज जैन, सौरभ जैन,  संजय जैन और मोनू जैन में एसपी नीरज कुमार जादौन को बताया कि आरोपी शराफत, शहजाद अली, सोनू, अरशद, नदीम जो बडागांव निवासी है। जबकि खेकड़ा निवासी जफरुद्दीन, साहिल, हाशिम इन लोगों ने जैन परिवारों पर जानलेवा हमला बोला था जिनके खिलाफ पीड़ितों ने संगीन धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कराई है। एसपी ने सभी आरोपियों की गिरफतारी के निर्देश दिये है।

hi


Post a Comment

0 Comments