हाथी की पुजा कर व पसंदीदा भोजन खिलाकर मनाया विश्व हाथी दिवस

हाथी की पुजा कर व पसंदीदा भोजन खिलाकर मनाया विश्व हाथी दिवस



केकड़ी । विश्व हाथी दिवस के अवसर पर गुरुवार को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद इकाई केकड़ी के कार्यकर्ताओं ने एसएफएस प्रकल्प के तहत हाथी की पूजा अर्चना की व उसे मनपसंद भोजन कराया। एबीवीपी के जिला प्रमुख शिक्षक दिनेश कुमार वैष्णव ने हाथी के लिए विशेष आहार का प्रबंध किया। वैष्णव ने देशभर में हाथियों की घटती संख्या पर भी चिंता व्यक्त की। 


कार्यकर्ताओं ने भर्तृहरि धाम अलवर से केकड़ी होकर रामदेवरा की ओर जा रहे हाथी को जयपुर रोड़ बायपास पर 23 किलो केले, गुड़ व पीपल के पत्ते आदि खिलाएं। इसके अतिरिक्त हाथी के महावत व उनके साथ चल रही एक दर्जन संतो की टोली को भी अल्पाहार कराया। 



जिला संयोजक गोविन्द शर्मा ने बताया कि यह दिवस हाथियों के संरक्षण और उनके प्रति जागरुकता प्रदान करने के लिए मनाया जाता है। यह भारत का राष्ट्रीय विरासत पशु भी है। यह खास दिन लोगों को हाथियों के सरंक्षण और सुरक्षा के लिए किये गए और आवश्यकतानुसार किये जाने वाले कार्यों का स्मरण कराता है। 


उपस्थित सभी कार्यकर्ताओं ने हाथी के पालक और उपस्थित संतो से हाथी के व्यवहार व उसके रहन-सहन के बारे में विस्तार से जानकारी ली। इस दौरान आशीष वैष्णव, मोहित शर्मा, तेजमल वैष्णव, मनोज चंदेल, श्रुति शर्मा व यशस्वी वैष्णव आदि ने भी सहयोग किया। 


गौरतलब है कि हाथियों के संरक्षण की दिशा में आम लोगों को जागरूक करने के लिए प्रतिवर्ष 12 अगस्त को विश्व हाथी दिवस के रूप में मनाया जाता है। हिन्दू धर्म में हाथी को भगवान गणेश का स्वरूप मानकर पूजा-अर्चना भी की जाती है। लेकिन कुछ माह पूर्व केरल में एक गर्भवती हथिनी से जिस तरह का सलूक हुआ उस घटना ने पूरी इंसानियत को शर्मसार कर दिया। भारत के साथ पूरी दुनिया में इस घटना की बेहद आलोचना हुई। पर्यावरण हिमायतियों ने इस पर गहरा विरोध भी जताया था।

Post a Comment

0 Comments