बागपत के 15 ग्राम पंचायत अधिकारियों के खिलाफ भ्रष्टाचार की जांच शुरू

 बागपत के 15 ग्राम पंचायत अधिकारियों के खिलाफ भ्रष्टाचार की जांच शुरू 


( सचिन त्यागी )


ग्राम पंचायत स्तर पर  बागपत जिले में करोडो रुपये का भ्रष्टाचार मिला है। मामला पकड़ में आने के बाद शासन के निर्देश पर 15 ग्राम पंचायत अधिकारियों के खिलाफ जांच शुरू हो गयी है। जांच में दोषी मिलने पर रिकवरी होगी। सीडीओ ने जांच टीम बनाकर जांच शुरू कर दी है। 


 कोरोना महामारी को बहाना बनाकर 40 लाख से  अधिक तक की धनराशी ग्राम विकास अधिकारियों ने निकाली है। जिले में ऐसे 15 ग्राम पंचायत अधिकारी मिले है।  प्रत्येक अधिकारी ने अपने पद का दुरूपयोग करते हुए 40-40 लाख या इससे अधिक तक की धनराशी खाते से निकाल ली । इस राशि का पूरा लेखा जोखा भी उनके पास नही है।  सीडीओ रंजीत सिह ने जानकारी देते हुए बताया कि ग्राम पंचायत स्तर पर पूर्व के ग्राम प्रधानों का कार्यकाल समाप्त हो गया था। ऐसे में कोरोना की दुसरी लहर आ गयी और ग्राम विकास अधिकारियों को कुछ जिम्मेदारियां प्रशासन की और से दी गयी थी। कोरोना से बचाव के लिए ग्राम पंचायत अधिकारियों को खाते से राशी निकालकर बचाव के निर्देश दिये गये , लेकिन एक दर्जन से  अधिक ग्राम पंचायतों ने जरूरत से ज्यादा पैसा निकाला है। शासन स्तर पर यह मामला पकड में आया है। शासन से मिले निर्देश के बाद जिले के 15 ग्राम पंचायत अधिकारियों के इस भ्रष्टाचार की जांच शुरू कर दी गयी है। दोषी पाए जाने पर सरकारी धन की रिकवरी की जाएगी।



Post a Comment

0 Comments