गायों की सेवा से बड़ी कोई सेवा नहीं : वशिष्ठ कुमार गोयल

 गुड़गांव गौशाला का 116वां स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया

गायों की सेवा से बड़ी कोई सेवा नहीं : वशिष्ठ कुमार गोयल

मुख्य अतिथि वशिष्ट कुमार गोयल ने गायों की सेवा के लिए खुलकर दान देने की अपील की

गुड़गांव 17 जनवरी



गुरुग्राम जिले के सबसे पुरानी दिल्ली रोड स्थित गुड़गांव गौशाला का 116 वां स्थापना दिवस धूमधाम के साथ मनाया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि नवजन चेतना मंच के संयोजक वशिष्ठ कुमार गोयल ने भाग लिया। इस दौरान पंडित लक्ष्मीचंद के वंशज पंडित विष्णु दत्त शर्मा ने सॉन्ग कार्यक्रम प्रस्तुत किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए वशिष्ट कुमार गोयल ने कहा कि मौजूदा जीवन काल में गायों की सेवा से बड़ी कोई सेवा नहीं होती है। जैसा कि हमारे ग्रंथों द्वारा बताया गया है कि गाय हमारी माता के समान है। गाय में सभी देवी देवताओं का निवास होता है। गाय की पूजा से बड़ी कोई पूजा भी नहीं है। हम देखते हैं कि बहुत सारी गौ माता सड़कों पर या अन्य स्थानों पर बीमार या दुर्घटनाग्रस्त मिलती है, तो हमारी गौशाला ही है जो ऐसी स्थिति में गायों को अपनी गौशालाओं में लाकर उनका उपचार और उनकी सेवा करने का काम करती है। वशिष्ठ कुमार गोयल ने कहा कि मैं गौशाला से जुड़े टीम के सभी सदस्यों का अभिनंदन करता हूं, हमारी गुड़गांव गौशाला के सभी सदस्य इतने कर्मठ है कि वह अपना ज्यादा से ज्यादा समय गायों की सेवा के लिए दे रहे है, यह बहुत बड़ी बात है। क्योंकि आज के दौर में इस शहर के बहुत से ऐसे भी लोग हैं जो समय के अभाव में रहते हैं मैं सभी गौ सेवकों को साधुवाद देता हूं और कामना करता हूं कि वह इसी तरह आगे भी सेवा भाव से जुड़े रहेंगे। वशिष्ठ कुमार गोयल ने कहा कि मैं गुड़गांव गौशाला से जुड़े सभी सदस्यों और प्रतिनिधियों का भी आभार प्रकट करता हूं जिनकी बदौलत बीते 116 वर्षों से निरंतर इस गौशाला में गायों की सेवा करने में सफलता मिली है। वशिष्ठ कुमार गोयल ने कहा कि वे वादा करते हैं कि गायों की सेवा के लिए हर समय इस गौशाला से जुड़े रहेंगे और अपने स्तर पर जो भी कार्य होंगे उसके लिए तैयार रहेंगे। इस मौके पर उन्होंने शहर के सभी लोगों से अपील की कि लोग गायों की सेवा के लिए गुड़गांव गौशाला से जुड़े और खुलकर दान दें जिससे कि गायों की सेवा करने में कठिनाइयों का सामना ना करना पड़े। 

कार्यक्रम में गौशाला के प्रधान चौधरी श्याम सिंह, उपप्रधान रामकिशोर, बलजीत सहरावत, संयुक्त सचिव साधु राम गुप्ता, कोषाध्यक्ष ईश्वर यादव, कार्यकारी सदस्य ओम प्रकाश कटारिया, राव बने सिंह, नत्थू राम सरपंच, राव सुरेंद्र सिंह, राम प्रताप सिंह, सूरत सिंह लांबा, रणधीर सिंह ठाकरान, ओमपाल तवर, अशोक हंस, राव हुकम सिंह, सतपाल सिंह, न्यायिक सदस्य मुकेश शर्मा एडवोकेट, जय भगवान कटारिया एडवोकेट,अशोक यादव नम्बरदार समेत अन्य लोग मौजूद रहे।

Post a Comment

0 Comments