अतिरिक्त निगमायुक्त ने की स्वच्छता शाखा के अधिकारियों के साथ बैठक



 

- बैठक में घूमंतु पशुओं, बंदरों, सार्वजनिक एवं सामुदायिक शौचालयों, डोर-टू-डोर कचरा कलैक्शन, कचरा डंपिंग, कचरा अलगाव सहित बल्क वेस्ट जनरेटरों के बारे में अधिकारियों को दिए गए आवश्यक दिशा-निर्देश

गुरूग्राम, 18 जनवरी। नगर निगम गुरूग्राम की अतिरिक्त आयुक्त डा. वैशाली शर्मा ने मंगलवार को स्वच्छता शाखा के अधिकारियों के साथ बैठक की तथा अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

बैठक में स्वच्छता से संबंधित विभिन्न माध्यमों से प्राप्त होने वाली शिकायतों के त्वरित समाधान के लिए अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश देते हुए अतिरिक्त निगमायुक्त ने कहा कि प्राप्त होने वाली शिकायतों का समाधान निर्धारित समयावधि के भीतर किया जाना सुनिश्चित करें। इसके साथ ही सडक़ों पर घूमने वाले पशुओं, सूअरों एवं बंदरों से संबंधित शिकायतों के समाधान के लिए जरूरी प्रक्रिया जल्द पूरी करवाएं, ताकि नागरिकों को इन समस्याओं से निजात दिलाई जा सके। इसके अलावा, सार्वजनिक एवं सामुदायिक शौचालयों की पर्याप्त सफाई व्यवस्था तथा ओडीएफ प्लस प्लस के मापदंडों के अनुसार उनका रख-रखाव सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने डोर-टू-डोर कचरा कलैक्शन प्रक्रिया को और भी बेहतर बनाने तथा घरों से गीला, सूखा व हानिकारक कचरा अलग-अलग उठाने के निर्देश अधिकारियों को दिए। 

अतिरिक्त निगमायुक्त ने कहा कि निर्धारित स्थानों के अलावा, कहीं पर भी कचरा नहीं पड़ा होना चाहिए। अगर कोई व्यक्ति अवैध रूप से कचरा डालता है, तो उसके चालान किए जाएं। उन्होंने बल्क वेस्ट जनरेटरों के यहां भी ठोस कचरा प्रबंधन नियम की पालना सुनिश्चित करवाने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए।

बैठक में में संयुक्त आयुक्त (मुख्यालय) हरीओम अत्री, स्वच्छता सलाहकार अनिल मेहता, सफाई अधिकारी विजेन्द्र शर्मा, वरिष्ठ सफाई निरीक्षक ऋषि मलिक एवं सुधीर सहित स्वच्छता शाखा के अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments