दोहरे हत्या कांड से दहला बागपत का बसी गांव, दो किसानों की गोली मारकर हत्या

 दोहरे हत्या कांड से दहला बागपत का बसी गांव, दो किसानों की गोली मारकर हत्या

रिपोर्ट - सचिन त्यागी 

बागपत जिले के बसी गांव में दिन दहाडे़ दो किसानों की गोली माकर हत्या कर दी गयी। किसान खेत से गन्ना लेकर तौल केंद्र पर जा रहे थे। हत्यारों ने कई गोली मारी जिससे दोनो की मौके पर ही मौत हो गयी। परिवार के एक सदस्या की कुछ दिन पूर्व जेल में हत्या कर दी गयी थी। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। 

बागपत के बसी गांव का रहने वाला सतसिंह पुत्र धुमसिंह गांव में किसान है। सोमवार दोपहर को सतसिंह अपने पौते के साथ खेत पर गन्ना छील रहा था। ट्रैक्टर ट्रौली में गन्ना भरकर जब वह तौल केंद्र की और जा रहा था उसकी समय अज्ञात लोगों ने हथियार लेकर उसको जंगल में घेर लिया और ट्रैक्टर पर सवार सतसिंह व उसके पौते मंदीप पु़त्र ऋषिपाल की गोली माकर हत्या कर दी। दोनो की मौके पर मौत हो गयी। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस ने मौके से कातूस के खोके भी बरामद किये है। पुलिस का कहना है कि परिवार की गांव में रंजिश चली आ रही है। हत्यारों की तलाश में पुलिस टीम लगा दी गयी है। 

परिवार के एक सदस्य ने जेल में तोड़ा दम 

सतसिंह के पु़त्र ऋषिपाल को खेकड़ा पुलिस ने कुछ दिन पूर्व एक मामले में जेल भेजा था। जेल में संदिग्ध परिस्थिति में उसकी मौत हो गयी थी। जेल में ऱिऋीपाल मृत अव्स्था में पाया गया था। 

एसपी ने मौके पर पहुंचकर ली जानकारी 

बागपत के बसी गांव में हत्या की सूचना मिलते ही एसपी बागपत नीरज कुमार जादौन गांव में पहुंच गये। ग्रामीणों से हत्या की जानकारी ली है। जल्द ही हत्यारों को पकने का आश्वासन दिया है। दोनो मृतकों को आठसे दस गोली मारी गयी है। 

बेखौफ थे हत्यारे 

दोहरे हत्याकांड़ को अंजाम देने वाले हत्यारे बेखौफ आये थे। ग्रामीणों ने बताया कि हत्यारों ने पहले तो ताबडतौड़ गोलियां बरसायी, उसके बाद दोनो को देखा की कही जिंदा तो नहीं है। मरने के बाद भी उन पर फायर किया गया। मौत होने की पुष्टी के बाद ही हत्यारे मौके से फरार हुए।



Post a Comment

0 Comments