भगवान वाल्मीकि चौपाल के पुनर्निर्माण के लिए मेयर को दिया पत्र

 भगवान वाल्मीकि चौपाल के पुनर्निर्माण के लिए मेयर को दिया पत्र


-भाजपा नेता नवीन गोयल के नेतृत्व में मांग पत्र देने पहुंचे वाल्मीकि समाज के लोग

-नई बस्ती की यह चौपाल करीब 150 साल पुरानी 

-जिले में चौपाल, धर्मशाला और सामुदायिक केंद्रों का लगातार किया जा रहा है निर्माण

गुरुग्राम। प्रदेश सरकार द्वारा लोगों की सहूलियत के लिए चौपाल, धर्मशाला और सामुदायिक केंद्रों का लगातार निर्माण किया जा रहा है। शहर के कई इलाकों में आज के समय की जरूरतों के हिसाब से इन्हें बनाया गया है। नई बस्ती स्थित वाल्मीकि चौपाल भी काफी पुरानी हो चुकी है। जिसके पुनर्निर्माण को लेकर शुक्रवार को मेयर मधु आजाद को पत्र सौंपा गया। 

पर्यावरण संरक्षण विभाग भाजपा हरियाणा प्रमुख एवं फिरोजपुर झिरका प्रभारी नवीन गोयल के नेतृत्व में सौंपे गए पत्र में कहा गया है कि इस चौपाल का नई बस्ती के साथ कई अन्य क्षेत्रों के लोगों को भी लाभ मिलता है। इसलिए इसका जल्द से जल्द निर्माण कराया जाएगा। क्षेत्रवासियों की ओर से दी गई जानकारी सांझा करते हुए नवीन गोयल ने कहा कि 800 गज क्षेत्रफल में बनी यह चौपाल करीब 150 साल पुरानी है। आज के समय यह चौपाल पूरी तरह से जर्जर हो चुकी है। इस चौपाल में नई बस्ती के लोगों के अलावा राम नगर, अर्जुन नगर, जैकबपुरा, प्रेम नगर आदि क्षेत्रों के लोगों द्वारा कार्यक्रम किए जाते रहे हैं। पांच हजार से भी अधिक आबादी पर यह एक मात्र चौपाल है। इसके जर्जर होने के कारण लोग अपने विवाह-शादी व अन्य कार्यक्रम यहां नहीं कर पा रहे। लोगों को काफी परेशानी होती है। इन क्षेत्रों में काफी गरीब लोग भी रहते हैं। जो कि अपने बच्चों की शादियों के कार्यक्रम किसी गार्डन या मैरिज पैलेस में करने में समर्थ नहीं हैं। इसलिए क्षेत्र में इस चौपाल का जल्द से जल्द निर्माण करना जरूरी है। आबादी लगातार बढ़ती जा रही है। इसलिए चौपाल को बड़ा बनाया जाए। मेयर मधु आजाद को मांग पत्र देने के दौरान नवीन गोयल के अलावा सुल्तान वाल्मीकि, जुगेश सारवान, राजकुमार सहरालिया, कुलदीप खरालिया, रमेश सारसर समेत क्षेत्र के कई लोग मौजूद रहे।

Please share your NEWS on below source and follow us also

Email-ajeybharat9@gmail.com

Whatsapp Group https://chat.whatsapp.com/ClaOhgDw5laFLh5mzxjcUH

http://facebook.com/Ajeybharatkhabar

http://youtube.com/c/Ajeybharatnews

http://instagram.com/ajeybharatnews

Twitter@ajeybharatnews

Post a Comment

0 Comments