अक्षय तृतीया पर पीपल वृक्ष के नीचे लगाई प्याऊ - सूर्य देव

  



मानेसर।  नखरौला निवासी समाजसेवी सूर्य देव यादव ने हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी अक्षय तृतीया पर राहगीरों के लिए पीपल वृक्ष के नीचे लगाई प्याऊ। सूर्य देव का मानना है  कि हमारे धर्म शास्त्रों के मुताबिक गर्मियों में राहगीरों के लिए पीपल वृक्ष के नीचे प्याऊ का बंदोबस्त करना चाहिए। गर्मियों में पानी से बढ़कर और कोई दूसरी वस्तु का इतना महत्व नहीं है इसलिए प्याऊ लगाना पुण्य का कार्य माना जाता है। अक्षय तृतीया का दिन अत्यंत शुभ दिन माना गया है और इस दिन बगैर महूर्त निकलवाए शादीयां की जा सकती है। इस दिन को अबूझ महूर्त भी कहते हैं। अक्षय तृतीया के दिन सोने से बने आभूषण की खरीदारी करना बहुत ही शुभ होता है। अक्षय तृतीया की तिथि पर भगवान परशुराम और हयग्रीव अवतार हुए थे। त्रेतायुग का प्रांरभ भी इसी तिथि को हुआ था। अक्षय तृतीया के दिन उत्तराखंड स्थिति श्री बद्रीनाथ जी के कपाट खुलते हैं। इस मौके पर रामनिवास, चंदर, राजकुमार, सूर्य देव, गोविंदा, पूर्णमल, दलीप सिंह चौकीदार, चांद और सत्यवान सिंह राठी आदि मौजूद रहे।


     

Please follow us also

Email-ajeybharat9@gmail.com

Whatsapp Group https://chat.whatsapp.com/ClaOhgDw5laFLh5mzxjcUH

http://facebook.com/Ajeybharatkhabar

http://youtube.com/c/Ajeybharatnews

http://instagram.com/ajeybharatnews

Post a Comment

0 Comments