खुद स्वच्छता को भी अहमियत दें महिलाएं: सुनीता सिंगला



-स्लम क्षेत्र जाकर दिया स्वच्छता का सामान

गुरुग्राम। परिवार की स्वच्छता और स्वस्थता की जिम्मेदारी महिलाओं पर अधिक होती है। ऐसे में महिलाओं की व्यक्तिगत स्वच्छता पर भी ध्यान दिया जाना जरूरी है। अक्सर स्लम बस्तियों में स्वच्छता के प्रति जागरुकता का अभाव वहां की महिलाओं, बच्चों में बीमारियां पैदा कर सकता है। यह बात विधायक सुधीर सिंगला की पत्नी सुनीता सिंगला ने सारथी फाउंडेशन के बैनर तले राजीव चौक के पास झुगगीयों में स्वच्छता का सामान वितरित करते हुए कही।

श्रीमती सिंगला ने कहा कि स्वच्छता पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने देश को जगाने का काम किया है। उन्होंने ऐसे मुद्दे को छुआ, जिसके बारे में हर कोई नहीं सोच सकता। गांधी जी का स्वच्छता का सपना पूरा करने के लिए प्रधानमंत्री मोदी जी ने अच्छा काम किया है। उन्होंने कहा कि एक महिला होने के नाते वे स्वच्छता को बेहतरी से जानती और मानती हैं। इसलिए सभी महिलाओं के साथ पुरुष भी घर, बाहर की सफाई को अपनी दिनचर्या बनाएं। सुनीता सिंगला ने यहां महिलाओं को सारथी फाउंडेशन की ओर से सेनिटाइजर, मास्क, सेनिटरी पैड आदि वितरित किए। डा. विनीता अग्रवाल ने भी महिलाओं को स्वच्छता के लिए जागरुक किया। उन्होंने कहा कि महिलाओं की अच्छी सेहत ही परिवार की सेहत को सही रख सकती है।
इस अवसर पर सारथी फाउंडेशन की अध्यक्ष श्रीमती लता ङ्क्षसह, श्रीमती कल्पना गोयल, सीएम विंडो एमिनेंट सदस्य अमित गोयल, निशांत अहलावत, नमन गोयल, पलक गोयल, हिम्मत राय सैनी, वंदना सिंगला, फलक, नमन समेत काफी पर्यावरण पे्रमी मौजूद रहे। 

Post a Comment

0 Comments