खरीफ फसलों का समर्थन मूल्य बढ़कर किसानों को दिया तोहफा: नवीन गोयल

 खरीफ फसलों का समर्थन मूल्य बढ़कर किसानों को दिया तोहफा: नवीन गोयल



-92 रुपये से लेकर 523 रुपये प्रति क्विंटल तक बढ़ा दिए गए हैं दाम
गुरुग्राम। पर्यावरण संरक्षण विभाग भाजपा हरियाणा प्रमुख नवीन गोयल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा खरीफ फसलों का समर्थन मूल्य बढ़ाने के कदम को किसानों के लिए बड़ा तोहफा बताया है। साथ ही कहा है कि विपक्षी दलों को भी प्रधानमंत्री का यह करारा जवाब है जो किसानों को सरकार के खिलाफ बरगलाने का प्रयास करते हैं।  

नवीन गोयल ने कहा कि केन्द्र सरकार ने वर्ष 2022-23 के लिए विभिन्न खरीफ  फसलों के जो समर्थन मूल्य बढ़ाए हंै, उससे किसानों को आर्थिक लाभ होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने फसल वर्ष 2022-23 के लिए सभी अनिवार्य खरीफ  फसलों की एमएसपी में बढ़ोतरी को मंजूरी दी है। बाजरे का भाव बढ़ाकर 2350 रुपये प्रति क्विंटल कर दिया गया है। धान की सामान्य ग्रेड किस्म के लिए एमएसपी को पिछले वर्ष के 1940 रुपये से बढ़ाकर 2040 रुपये प्रति क्विंटल कर दिया गया है। धान की ए-ग्रेड किस्म का समर्थन मूल्य 1960 रुपये से बढ़ाकर 2060 रुपये प्रति क्विंटल कर दिया गया है।

श्री गोयल ने कहा कि 14 फसलों के एमएसपी 92 रुपये प्रति क्विंटल से लेकर 523 रुपये प्रति क्विंटल तक बढ़ाना यह दर्शाता है कि केन्द्र सरकार किसान हितों के प्रति पूरी तरह से सजग है। उन्होंने कहा कि एमएसपी बढ़ाने के बाद ज्वार का भाव 2758 से बढ़ाकर 2990 रूपये प्रति क्विंटल, रागी का भाव 3377 से बढ़ाकर 3578 रुपये, मक्का का भाव 1870 से बढ़ाकर 1962 रुपये, अरहर 6300 से 6600 रूपये, मूंग 7275 से 7755 रुपये प्रति क्विंटल, कपास मिडियम स्टेपल पर 354 रुपये व कपास लांग स्टेपल पर 355 रुपये प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की गई है। सूरजमुखी सीड का भाव 6015 रुपये से बढ़ाकर 6400 रुपये प्रति क्विंटल कर दिया गया है। तिल पर सबसे ज्यादा 523 रुपये प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी, नाइजर सीड (रामतिल) पर 357 रुपये प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की गई है, जबकि सोयाबीन येलो का भाव 3950 से बढ़ाकर 4300 रूपये प्रति क्विंटल किया गया है। उन्होंने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ के उस बयान का भी स्वागत किया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि मोदी राज में फसलों के भाव इसी तरह बढ़ेंगे और मंडी भी इसी तरह चलेगी। सरकार का यह कदम दर्शाता है कि सरकार सदा किसानों के हित में खड़ी है। किसानों को हर कदम पर सरकार का साथ है। 

Post a Comment

0 Comments