900 मीटर में समस्याओं के समाधान को केंद्रीय मंत्री से मिले नवीन गोयल

 


-केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के समक्ष 900 मीटर का मुद्दा रखने पर किया राव इंद्रजीत का धन्यवाद

-भाजपा नेता नवीन गोयल के नेतृत्व में शीतला कालोनी, अशोक विहार के लोगों ने बताई अपनी व्यथा  

गुरुग्राम। आयुद्ध डिपो के 900 मीटर दायरे में व्याप्त समस्याओं के समाधान के लिए मंगलवार को पर्यावरण संरक्षण विभाग भाजपा हरियाणा प्रमुख नवीन गोयल ने केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह से सिफारिश की है। उन्होंने बताया कि 900 मीटर दायरे में कई समस्याएं हैं। इन्हें दुरुस्त कराकर लोगों को राहत दी जाए। इस पर केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह ने निगमायुक्त को इसके समाधान के निर्देश दिए।

इस अवसर पर रामपाल भड़ाना, अश्वनी, आनंद फौजी, संजीव सोम, रोहित सिंह, रामनारायण, रविंद्र सिंह, शंकर सिंह, नागेंद्र सिंह, भानू प्रताप सिंह, ओमप्रकाश सहरावत, प्रकाश चंद लादी, प्रीत सिंह मेहरा, ओमप्रकाश जांगड़ा, मातादीन यादव, अनिल राणा, आनंद कुमार, राजकुमार छोकर, मुकेश तिवारी, हरि सिंह, महिपाल सिंह सहारण, दीपक राजपूत, प्रमोद गुप्ता, कुलदीप भाकर समेत अनेक लोग मौजूद रहे।  

केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत ङ्क्षसह मंगलवार को गुरुग्राम में कई कार्यक्रमों में शिरकत करने पहुंचे थे। इस दौरान शहर की शीतला कालोनी और अशोक विहार कालोनी के लोगों के साथ नवीन गोयल ने केंद्रीय मंत्री से मुलाकात की। उन्होंने दोनों कालोनियों की समस्याओं के बारे में अवगत कराया। मुख्य रूप से समस्याएं पानी और सीवरेज की रखी। लोगों ने भी उन्हें बताया कि इन समस्याओं के कारण काफी दिक्कत होती है। गलियों में भी सीवरेज का पानी बहता है। स्कूल बच्चों, बुजुर्गों को सबसे अधिक दिक्कत आती है। कई बार लोग यहां सीवरेज के पानी में भी गिरकर चोटिल हो चुके हैं। इनके समाधान के लिए नवीन गोयल ने क्षेत्रवासियों की ओर से केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह से गुहार लगाई। 

आयुद्ध डिपो के 900 मीटर दायरे को घटाकर 300 मीटर करने के लिए नोटिफिकेशन जारी करने की मांग को गत दिनों गुरुग्राम पहुंचे केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी के समक्ष रखने का भी नवीन गोयल ने राव इंद्रजीत ङ्क्षसह का धन्यवाद किया। नितिन गडकरी ने नोटिफिकेशन की घोषणा यहां की थी। अशोक विहार आरडब्ल्यूए फेज-3 के प्रधान सुरेश तंवर ने भी केंद्रीय मंत्री का उनके क्षेत्र की समस्याओं का समाधान करने के लिए निगमायुक्त को दिशा-निर्देश देने पर धन्यवाद किया।

Post a Comment

0 Comments