ALERT एसबीआई क्रेडिट कार्ड कस्टमर केयर में बैठे हुए हैं साइबर ठग

 


मैं यह खबर किसी को बदनाम करने के लिए नहीं लिख रहा हूं मैं यह खबर लिख रहा हूं आप जैसे मेरे जैसे सभी लोगों को आगाह करने के लिए मैं आपको बताना चाहता हूं कि किस तरह साइबर क्राइम एक्सपर्ट आज आपके मोबाइल के द्वारा आपके बैंक अकाउंट में घुस चुके हैं और यह शातिर ठग कभी भी किसी भी समय आपके अकाउंट को खाली कर सकते हैं आपको दिवालिया बना सकते हैं या फिर आपको रातों-रात एक करोड़पति से रोडपति बना सकते हैं दोस्तों ऐसा नहीं है कि यह ठग सिर्फ बाहर घूमते हुए आपको मिलेंगे यह ठाकपा टायरा आज के टाइम में किसी भी बैंक के कस्टमर केयर में भी घुस चुके हैं 

आप अगर यह सोचते हैं कि आप कस्टमर केयर को ट्विटर के जरिए जानकारी दे रहे हैं और जानकारी ले रहे हैं या फिर उनके कस्टमर केयर से आपको कॉल आई है तो वह कॉल एकदम सच्ची है हो सकता है यह कॉल किसी साइबर की हो क्योंकि कॉल सेंटर में बैठा हुआ साइबर ठग जान चुका है कि आप परेशान हैं और जब आप परेशान हैं तो कम से कम 5 या 10  मिनट के लिए आपका दिमाग वह हैंग कर देगा और हैंग करके आपके फोन को हैक कर लेगा और हैक करने के बाद आपका अकाउंट चाहे आपका पेटीएम पोस्टपेड हो उसको खाली कर देगा ऐसा ही एक बार किया मेरे साथ हुआ है मैंने किसी कारणवश परेशान होकर ट्विटर पर स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के क्रेडिट कार्ड विभाग को एक ट्वीट 13 जुलाई को किया जो कि 9:08 पर रात्रि में किया गया 9:11 पर मेरे पास एक कॉल आई जो कि कॉल करने वाले ने बताया कि वह एसबीआई के क्रेडिट कार्ड डिपार्टमेंट से बात कर रहा है और उसने जानना चाहा कि मेरी क्या समस्या है मुझे लगा कि मैंने अभी-अभी जो कंप्लेंट की है उसी के जवाब में यह कॉल आई है और मैंने उसे अपनी आपबीती बतानी शुरू कर दी मेरी बात को अच्छी तरह सुनने के बाद में उस कस्टमर केयर में बैठे हुए ठग ने बोला कि क्या यह नंबर आपका व्हाट्सएप पर है

 मैंने कहा हां यह नंबर व्हाट्सएप पर है तब उसने कहा कि मैं आपको एक लिंक शेयर कर रहा हूं आप उस पर क्लिक करके डाउनलोड कर लीजिए और अपनी जो शिकायत है वह उस पर लिख दीजिए जिससे कि आपकी शिकायत पर जल्दी कार्यवाही होगी मैंने उसके द्वारा भेजे गए लिंक पर क्लिक किया और उस लिंक पर क्लिक करने के बाद मैंने अपनी शिकायत अपना मोबाइल नंबर और अपना नाम उस लिंक में डाल दिया जिसके तुरंत बाद सबमिट करते ही मेरे पास मैसेज आया पेटीएम से कि मेरा पेटीएम अकाउंट किसी दूसरे मोबाइल में लॉगिन किया गया है यह देखकर जब मेरा माथा ठनका तो मैंने उससे पूछा कि मेरा पेटीएम अकाउंट लॉगिन हुआ है 

किसी दूसरे से तो कहीं ऐसा तो नहीं है कि तुम हो तुम मुझे ठग रहे हो तब उसने बोला कि नहीं ऐसा कुछ भी नहीं है और उसके तुरंत बाद जब मुझे एहसास हुआ कि यह ठग हो सकता है तो मैंने अपने मोबाइल को जल्दबाजी में स्विच ऑफ कर दिया कुछ देर के बाद मैंने अपना मोबाइल स्विच ऑन किया और मेरे अकाउंट में जितने भी पैसे थे वह सारे मैंने अपने दूसरे अकाउंट पर ट्रांसफर कर दिए इसके बाद में मैं निश्चिंत हो गया अगले दिन जब मैंने देखा तो पाया कि मेरे मोबाइल में जो गूगल पे फोन पे और पेटीएम अकाउंट था उन तीनों के ही पासवर्ड यूपीआई के चेंज हो चुके थे बाद में मुझे एहसास हुआ कि शायद ऑनलाइन मेरा फोन हैक किया हुआ है इस कारण से मैंने इन तीनों ही ऐप को अपने मोबाइल से डिलीट कर दिया लेकिन 1 अगस्त को मेरे पास में जब ईमेल आया कि आपके पेटीएम पोस्टपेड का बिल बन चुका है और उसका ₹39000 का पेमेंट मुझे 7 अगस्त तक करना है तब मैंने जो चेक किया और पाया कि मेरे साथ मेरे अकाउंट में तो ठगी नहीं की गई लेकिन साइबर ठग ने मेरे पेटीएम का जो पोस्टपेड अकाउंट होता है उसमें जरूर ठगी कर ली है उसने उसमें से दो बिजली के बिल भरे हैं दो फोन रिचार्ज किए हैं और दो बार पेमेंट जो है अकाउंट में ट्रांसफर की है इसकी कंप्लेंट मैंने जब भारत सरकार के साइबर क्राइम हेल्पलाइन 1930 पर की तो उन्होंने कहा कि ऑनलाइन कंप्लेंट डाल दीजिए वरना 1930 पर सिर्फ 72 घंटे के अंदर ही कंप्लेंट की जा सकती है लेकिन जब मुझे ही खुद पता नहीं था 72 घंटे के अंदर कि मैं लुट चुका हूं तो मैं 1930 क्या सबूत दे सकता था 

आज मेरे पास ऑप्शन यही है कि मैं  थाने में जाकर के इसकी कंप्लेंट लिखवा दु और जो भी उचित कार्रवाई है साइबर थाने से की जाएगी लेकिन इस पूरी कहानी को सुनाने का मेरा मकसद सिर्फ यही है कि आप बचे और अगर कभी कोई भी प्रॉब्लम आपको होती है आपको किसी भी तरह की कॉल आती है किसी भी कस्टमर केयर से कॉल आती है कोई भी व्यक्ति बोलता है कि मैं कस्टमर केयर से बात कर रहा हूं आप अपना otp भी शेयर कर दीजिए या फिर आप अपना एक ऐप डाउनलोड कर लीजिए तो आप बिना कुछ सोचे समझे समझ जाइए कि यह ठगी की कॉल है और आप ठगे जा सकते हैं क्योंकि इस प्रॉब्लम के बाद मैं जान पाया हूं कि अब कस्टमर केयर में भी ठगों ने अपना जाल बिछा दिया है और कस्टमर केयर भी ठगों के हाथ में आ चुका है धन्यवाद


Post a Comment

0 Comments