ओखला प्रेस क्लब ने स्वर्गीय पत्रकार आमिर सलीम ख़ान के परिवार को 1 लाख और स्वर्गीय पत्रकार रौशन अली बेग के परिवार को 50 हज़ार रूपिया की आर्थिक मदद की

 ओखला प्रेस क्लब ने स्वर्गीय पत्रकार आमिर सलीम ख़ान के परिवार को 1 लाख और स्वर्गीय पत्रकार रौशन अली बेग के परिवार को 50 हज़ार रूपिया की आर्थिक मदद की । 

चेयरमैन मुन्ने भारती ने कहा मुहिम जारी रहेगी, लोग क्लब की मदद करें 



नई दिल्ली - पत्रकारिता के क्षेत्र में कार्य करने वाले पत्रकारों के हित में काम करने वाली बहुत सारी संस्थायें देश में सक्रिय है ।। दिल्ली के ओखला इलाक़े में कोरोना काल में जन्मी ओखला प्रेस क्लब ने इलाक़े में सैकडो पत्रकारों के साथ सामाजिक कार्यकर्ताओं के घरों को सेनेटाइज़ कराकर धमाकेदार इंट्री की 

उससे देश भर में पत्रकारों के हितो में काम करने का दावा करने वाली संस्था के बड़े पदाधिकारी भी सोच में पड़ गये । इसके साथ इलाक़े में कई लाख रूपिया का सामान ज़रूरत मंदों के घर तक पहुँचाने का काम बखूबी अंजाम दिया गया । ओखला प्रेस क्लब के संस्थापक और एनडीटीवी के वरिष्ठ पत्रकार एम अतहरउद्दीन मुन्ने भारती की भूमिका अहम रही है । अब उनकी मुहिम पत्रकारों की मौत पर उनके परिवार को आर्थिक मदद करने की है । जिसकी शुरुआत दिल्ली में उर्दू दैनिक हमारा समाज के संपादक आमिर सलीम ख़ान की मौत के बाद उनके परिवार को १ लाख रूपिया और इंगलिश डेली मिलेनियम पोस्ट के वरिष्ठ पत्रकार रौशन अली की हार्ट अटैक से हुई मौत के बाद उनके परिवार को 50 हज़ार रूपिया की आर्थिक मदद के अलावा उनकी बेटी को निःशुल्क आईएस कोचिंग की व्यवस्था की , इस निःशुल्क आईएस कोचिंग की व्यवस्था संस्था के महासचिव एवं वरिष्ठ पत्रकार डॉक्टर मुज़फ़्फ़र हुसैन ग़ज़ाली ने की । 



ओखला प्रेस क्लब की कोर कमेटी में उर्दू दैनिक के ग्रुप एडिटर साजिद वज़ूद, परवेज़ अहमद ( वरिष्ठ पत्रकार बीबीसी) , के संरक्षण में वॉइस ऑफ़ अमेरिका के भारत में रिपोर्टर सुहैल अंजुम , डाइच वैले जर्मनी ( उर्दू) एडिटर जावेद अहमद,, दूरदर्शन न्यूज़ वरिष्ठ पत्रकार शैला निगार, वरिष्ठ पत्रकार डॉक्टर मुज़फ़्फ़र हुसैन ग़ज़ाली, सैयद रूमान हाशमी , ज़हीर उल हसन , भारत एक्सप्रेस ( उर्दू) ग्रुप एडिटर ख़ालिद रज़ा ख़ान, सद्भावना टुडे हिन्दी दैनिक एडिटर इन चीफ सैफ़उल्लाह सिद्दीक़ी , जमशेद इक़बाल ( आज तक ) , साजिद अशरफ़ ( न्यूज़ नेशन ) , मिल्लत टाइम्स एडिटर इन चीफ शमश तबरेज़ क़ासमी , एशिया टाइम्स एडिटर इन चीफ अशरफ़ बस्तवी, सहित अन्य पत्रकार शामिल है ।  



ओखला प्रेस क्लब चेयरमैन पत्रकार एम अतहरउद्दीन मुन्ने भारती इस संवाददाता से कहते कि ओखला प्रेस क्लब की स्थापना इलाक़े के पत्रकारों के हितों की रक्षा के लिए किया गया था , जब कोरोना काल में पत्रकार सड़क पर था और अपनी पत्रकारिता को निष्पक्ष और निर्भीक तारीक से कर रहे थे उस वख़्त उनके परिवार को कोरोना से बचाने के लिये प्रेस क्लब ने ओखला में रहने वाले सैकडो पत्रकारों के साथ समाजसेवियों के घरों को पूरी तरह सेनेटाइज़ कराया गया । उनके परिवार के साथ क्लब खड़ा रहा । एक फ़ोन पर उनके परिवार को सुविधायें मुहैया कराया । इस तरह मुहिम चलती रही , और अब इस मुहिम का हिस्सा पत्रकार की मौत के बाद उनके परिवार को आर्थिक मदद कि पहल शुरू की गई है । जिसकी स्वर्गीय पत्रकार आमिर सलीम साहब और स्वर्गीय पत्रकार रौशन अली बेग साहब के परिवार तक पहुँच कर उनके साथ खड़े होने की पहल एक कड़ी है जो आगे भी जारी रहेगी । 

उन्होंने आगे कहा की जब पत्रकार दुनिया में नहीं रहता तो उनके परिवार को बहुत मजबूरी का सामना करना पड़ता है उस समय पत्रकार बिरादरी को उनके साथ खड़े रहने की ज़रूरत है । श्री भारती ने पत्रकारों से अपील की कि वो ( +91 9858-22-23-24) ओखला प्रेस क्लब से जुड़े और मुहिम को और मज़बूती के साथ आगे बढ़ायें ।

Post a Comment

0 Comments