छात्रों से परीक्षा के तनाव को दूर करने के लिए पूरे प्रदेश में होंगी ‘‘परीक्षा पे चर्चा’’ विषय पर प्रतियोगिताएं: औम प्रकाश धनखड़

छात्रों से परीक्षा के तनाव को दूर करने के लिए पूरे प्रदेश में होंगी ‘‘परीक्षा पे चर्चा’’ विषय पर प्रतियोगिताएं: औम प्रकाश धनखड़



- 20 जनवरी से प्रत्येक जिला में होंगी प्रतियोगिताएं

- 27 जनवरी को प्रधानमंत्री मोदी ‘‘परीक्षा पे चर्चा’’ विषय पर छात्रों से करेंगे संवाद

- जी-20 बैठकों और अमित शाह के दौरे की भी दी जानकारी


गुरुग्राम, 13 जनवरी। भारतीय जनता पार्टी हरियाणा ने प्रधानमंत्री की ‘‘परीक्षा पे चर्चा’’ कार्यक्रम को बड़े रूप में आयोजित करने की योजना बनाई है। शुक्रवार को इस विषय पर एक विशेष प्रेसवार्ता करके भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष ओम प्रकाश धनखड़ ने पूरी योजना की विस्तार पूर्वक जानकारी दी।  प्रेसवार्ता में श्री धनखड़ ने जी-20 की हरियाणा में होने वाली बैठकों और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के हरियाणा दौरे के बारे में भी पत्रकारों को बताया और कांग्रेस पर हमलावर रहे। 

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी परीक्षा से पहले ’‘परीक्षा पे चर्चा’’ कार्यक्रम के जरिए 2018 से छात्रों से परीक्षा के तनाव को दूर करने के लिए लगातार संवाद करते आ रहे हैं। तनाव को दूर करने के उपायों एवं स्वयं के अनुभवों को साझा करने से छात्रों को प्रोत्साहन मिलता है तथा यह बहुत लोकप्रिय एवं उपयोगी कार्यक्रम है। हरियाणा में इस कार्यक्रम की सफलता के लिए 20 जनवरी से प्रत्येक जिला में परीक्षा पे चर्चा विषय पर ‘‘आर्ट एवं पेंटिंग’’ प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा। इन कार्यक्रमों में लोकसभा और राज्यसभा सांसदों की महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी। प्रदेश अध्यक्ष औम प्रकाश धनखड़ शुक्रवार को प्रदेश कार्यालय ‘‘गुरुकमल’’ में प्रेसवार्ता को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने हरियाणा में होने वाली जी-20 की बैठकों के बारे में भी जानकारी दी।  ओम प्रकाश धनखड़ ने बताया कि हरियाणा में 26 जनवरी तक सभी प्रतियोगिताएं पूरी कर 27 जनवरी को जगह-जगह एक बड़ी स्क्रीन लगाकर प्रधानमंत्री के ‘‘परीक्षा पे चर्चा’’ को सामूहिक रूप से सुना जाएगा। इस मौके पर प्रदेश उपाध्यक्ष जीएल शर्मा,  प्रदेश प्रवक्ता सूरजपाल अम्मू , जिला अध्यक्ष गार्गी कक्कड़, शिक्षक प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक डॉ मदन गोयल, राष्ट्र दहिया, यशपाल बत्रा, अजीत यादव, जयवीर यादव, नीरज यादव, मनीष गाडोली, महेश यादव उपस्थित थे। 

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि सफलता में भी उच्च स्तर की सफलता, टॉप लेवल की सफलता, परफोरमेंस का दबाव छात्रों पर देखा जाता है। माता पिता भी इस विषय को लेकर दबाव में रहते हैं। परीक्षा हमारे लिए तनाव का विषय बनने की बजाए आनंद का विषय बनें, खेल-खेल में हम इस विषय को आगे बढ़ाएं, इस मामले को लेकर एक बैठक हो चुकी है जिसमें तनाव से मुक्ति पर चर्चा हुई थी। 

श्री धनखड़ ने कहा कि सफलता जीवन के किस मोड़ पर लिखी है यह कभी कहा नहीं जा सकता। उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और मोरारजी देसाई का उदाहरण देते हुए कहा कि वे 74 और 79 की उम्र में प्रधानमंत्री बनें। सफलता के लिए मौका महत्वपूर्ण नहीं होता। सफलता एक यात्रा होती है सभी को यात्रा के इस पड़ाव का आनंद पूवर्क सहभागी बनना चाहिए। उन्होंने बताया कि ‘‘परीक्षा पे चर्चा’’ विषय पर एक पुस्तक एग्जाम वारियर्स आ रही है जो छात्रों के लिए काफी महत्वपूर्ण है।  

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि इस बार भाजपा ने गैर राजनीतिक रूप से तय किया है कि इन प्रतियोगिताओं का आयोजन बड़े और व्यापक रूप से किया जाए। हर जिले में छात्रों की 500 से अधिक संख्या होनी चाहिए। एग्जाम वारियर्स पुस्तक में विभिन्न प्रकार के आर्ट एवं पेंटिंग दर्शाई गई है जो छात्रों के लिए तनाव से मुक्ति दिलाने में काफी मददगार साबित होगी।  

उन्होंने बताया कि परीक्षार्थियों के लिए 28 बिंदु रखे गए हैं, वहीं अभिभावकों के लिए छह बिंदु निश्चित किए हैं, जो प्रतियोगिता से संबंधित हैं। उन्होंने बताया कि प्रतियोगिता में चयनित किए गए छात्रों को 10 सर्वश्रेष्ठ तथा 25 श्रेष्ठ पुरस्कार दिए जाएंगे।  प्रदेश अध्यक्ष ने बताया कि ये प्रतियोगिताएं विधानसभा स्तर पर आयोजित होंगी इनमें सांसद व विधायक भी शामिल होंगे। व्यापक स्तर पर छात्रों के लिए बड़ी स्क्रीन लगाई जाएंगी ताकि सामूहिक रूप से सभी 27 जनवरी सुबह 11 बजे प्रधानमंत्री की परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम में शामिल हो सके। उन्होंने बताया कि हमारा प्रयास होगा कि हम पूरे प्रदेश में 26 जनवरी तक सभी प्रतियोगिताओं का कार्यक्रम करा सकें। 


कमेटी गठित


उन्होंने बताया कि ये प्रतियोगिताएं सफल हों इसके लिए एक कमेटी का गठन किया गया है जिसमें संयोजक डा. मदन लाल गोयल को बनाया है। इनके साथ ही महामंत्री डा. पवन सैनी, स्वाति यादव  और विरेंद्र फोगाट को जोड़ा गया है। हरियाणा में चार लोगों की कमेटी बनाई जिसमें शिक्षाविद भी शामिल हैं। उन्होंने बताया कि जिले के हिसाब से जो कमेटी बनेगी  उसमें राज्यसभा व लोकसभा के सांसद और शिक्षा प्रकोष्ठ के प्रबुद्धजन शामिल किए हैं। 


जी-20 की बैठकों में अतिथियों का होगा हरियाणा में भव्य स्वागत: धनखड़


प्रदेश अध्यक्ष ओम प्रकाश धनखड़ ने हरियाणा में होने वाली जी-20 की बैठकों को लेकर कहा कि ये बैठकें हरियाणा के लिए अति महत्वपूर्ण होंगी। इन बैठकों में 19 देश शामिल होंगे, जिनमें एक यूरोपियन यूनियन भी है। उन्होंने बताया कि इसके अलावा 9 देशों को आमंत्रित किया गया है, जिनमें बाग्लादेश, इजिप्ट मॉरिसस, नीदरलैंड, नाइजरिया, ओमान, स्पेन और संयुक्त अरब अमीरात हैं। जो 56 बैठकें भारत में होनी हैं उनमें 29 देशों के प्रतिनिधि भारत में आएंगे। 

श्री धनखड़ ने बताया कि फरवरी में गुरुग्राम में होने वाली जी-20 की बैठक 1, 2, 3 मार्च को होनी संभावित है। इन बैठकों में अलग-अलग देश के प्रतिनिधि होंगे तो जाहिर है उनकी भाषाओं में उनके झंडे और होर्डिंग लगे इसकी जिम्मेदारी भाजपा के कार्यकर्ता संभालेंगे। परम्परागत वेषभूषा में अतिथियों का स्वागत करना और अपनी संस्कृति की छाप उन पर छोड़ना ताकि वे महसूस कर सके और अच्छी यादें लेकर वो अपने देश में जाएं। उन्होंनें कहा कि बहुत से देशों के लिए दुनिया एक बाजार है लेकिन हमारे लिए दुनिया एक परिवार है। वसुधैव कुंटुम्बकम की भावना जिसमें सभी का भला निहित है और पूरी पृथ्वी को परिवार के रूप में देखते हैं। 


केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह का हरियाणा दौरा 29 को


प्रदेश अध्यक्ष ओम प्रकाश धनखड़ ने बताया कि जनवरी के अंतिम सप्ताह में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह का हरियाणा का दौरा है। उन्होंने बताया कि श्री शाह एक लोकसभा की रैली को भी संबोधित करेंगे। उन्होंने बताया कि जल्द रैली किस लोकसभा में होगी यह तय कर लिया जाएगा। 


कांग्रेस पार्टी खुद परिवारवाद पर चलती है: धनखड़


पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा द्वारा अपनी सरकार आने पर परिवार पहचान पत्र खत्म करने के बयान का भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष औम प्रकाश धनखड़ ने करारा जवाब दिया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी खुद परिवारवाद पर चलती है और यही इनका परिवार पहचान पत्र है। वो अगर खत्म कर सकते हैं तो पहले कांग्रेस को परिवारवाद से मुक्त कराएं और अपने घर से भी परिवारदवाद को हटाएं जिससे हरियाणा के कांग्रेसी भी संतप्त है। कांग्रेस पर तंज कसते हुए श्री धनखड़ ने कहा कि परिवारवाद के चलते इन्होंने तो अपने अध्यक्षों को कार्यकारिणी भी नहीं बनाने दी। 

परिवार पहचान पर बोलते हुए श्री धनखड़ ने कहा कि यह हरियाणा की भाजपा सरकार का अनोखा प्रयोग है। परिवार एक इकाई के रूप में पहचान बन रहा है यह अच्छी बात हैं। भारत दुनिया में अध्यात्म के रूप में जाना जाता है वहीं परिवार के लिए भी पहचाना जाता है। हमारी परिवार व्यवस्था मजबूत है। उन्होंने कहा कि यह नया प्रयोग है इसलिए डाटा आदि में कुछ कमियां रह जाती हैं जिन्हें सरकार ठीक करा रही है।

Post a Comment

0 Comments