जीएमडीए द्वारा ओपन मास्टर स्टॉर्म वॉटर ड्रेन के किनारे फेंसिंग लगाने का कार्य प्रगति पर है

जीएमडीए द्वारा ओपन मास्टर स्टॉर्म वॉटर ड्रेन  के किनारे फेंसिंग लगाने का कार्य प्रगति पर है 

-जीएमडीए के लेग 1, लेग 2 और लेग 3 बरसाती नालों के खुले हिस्सों पर ग्रिल लगाने का काम चल रहा है।  

गुरुग्राम, 29 नवंबरः गुरुग्राम महानगर विकास प्राधिकरण (जीएमडीए) अपने सभी प्रमुख बरसाती नालों के खुले हिस्सों पर फ़्रेन्सिंग लगाने का काम कर रहा है। जीएमडीए के लेग 1, लेग 2 और लेग 3 नालों के ओपन/अनकवर्ड स्थानों पर ग्रिल लगाए जा रहे हैं।

किसी भी घातक घटना से बचने, खुले नालों में कचरे की डंपिंग पर रोक लगाने और शहर के ड्रेनेज नेटवर्क की स्वच्छता बनाए रखने के लिए यह कार्य किया जा रहा है। लगभग 4.5 किलोमीटर तक की फ़्रेन्सिंग की जानी है, जिसमें से 2.5 किलोमीटर पर ग्रिल को लगाने का काम पूरा हो चुका है।

आवासीय क्षेत्रों में खुले नाले को प्राथमिकता के आधार पर लिया गया है। उद्योग विहार, अशोक विहार, भीमगढ़ खेड़ी, गांव घडौली, सेक्टर-37 में पेव सिटी 2 और एनएच-48 पर बादशाहपुर पुलिया के पास खुले नालों के किनारे, फ़्रेन्सिंग लगाने का काम पूरा हो चुका है।    

“जीएमडीए विशेष रूप से आवासीय क्षेत्रों के निकट नालों पर मानव और पशु जीवन की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए 6 फीट की ऊंचाई तक के ग्रिल स्थापित कर रहा है। इसके अतिरिक्त, ड्रेन  में बड़े पैमाने पर कूड़ा-कचरा डालना एक प्रमुख मुद्दा है जो अक्सर  शहर की जल निकासी व्यवस्था को अवरुद्ध कर देता है। इन क्षेत्रों में बाड़ लगाने से इन गतिविधियों पर अंकुश लगाने में मदद मिलेगी, ”जीएमडीए इंफ्रा-2 के कार्यकारी अभियंता, श्री विक्रम सिंह, ने कहा।  

अन्य हिस्सों पर काम प्रगति पर है और जीएमडीए टीम द्वारा इसे प्राथमिकता पर लिया जा रहा है।

वर्तमान में, जीएमडीए के तीन प्रमुख बरसाती नाले हैं जो शहर के बरसाती पानी को नजफगढ़ नाले तक ले जाते हैं। लेग 1 ड्रेन (सिकंदरपुर से पालम विहार वाया नजफगढ़), लेग 2 ड्रेन (सेक्टर 42 हुडा सिटी सेंटर से नजफगढ़) और लेग 3 ड्रेन (घाटा गांव से वाटिका चौक, हीरो होंडा चौक, सेक्टर 99 से नजफगढ़ ड्रेन) जिसको बादशाहपुर ड्रेन भी कहा जाता है।   


जीएमडीए मानसून के दौरान सेक्टर 68-80 में जल निकासी नेटवर्क में सुधार और किसी भी जलभराव की समस्या को रोकने के लिए सोहना रोड पर वाटिका चौक से एनएच 8 तक (दक्षिणी पेरिफेरल रोड (एसपीआर) के साथ लगते हुए मास्टर ड्रेन) लेग 4 का निर्माण भी कर रहा है। 

Post a Comment

0 Comments