कुसुम उड़ान महिला स्वयं सहायता समूह, नारी शक्ति की एक पहचान

 कुसुम उड़ान महिला स्वयं सहायता समूह, नारी शक्ति की एक पहचान 



गुरुग्राम। अजय वैष्णव। कुसुम उड़ान महिला स्वयं सहायता समूह का निरीक्षण श्रीमती ईशा कालिया (IAS) डायरेक्टर- मिनिस्ट्री ऑफ़ हाउसिंग एंड अर्बन अफेयर्स, श्री जगदीश चंद्र नगर परियोजना अधिकारी नगर निगम, गुरुग्राम तथा श्री अमरेश प्रताप सिंह डिस्ट्रिक्ट कोऑर्डिनेटर, गुरुग्राम, नेशनल अर्बन लाइवलीहुड मिशन के द्वारा किया गया| इस विजिट का मुख्य उद्देश्य कुसुम उड़ान महिला स्वयं सहायता समूह के कार्यप्रणाली तथा लीडरशिप को जानना था| कुसुम लता जी से राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन योजना को और बेहतर बनाने के लिए सलाह भी मांगी गई, कुसुम जी के दिए गए कुछ सुझाव -जैसे स्वयं सहायता समूह के उत्पादों को बिक्री तथा प्रदर्शन के लिए ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर लाने के लिए एक सरल और पारदर्शी  प्रक्रिया बनाई जाए तथा कुछ स्वयं सहायता समूह के उत्पादों के लिए नगर निगम के अंतर्गत आने वाले वेंडिंग जोन में भी जगह दिलाई जाए जिससे महिलाएं आर्थिक रूप से सक्षम बन सके और इस योजना को सुचारू ढंग से लागू किया जा सके ऐसा करने पर समूह जुड़ी महिलाओं का मनोबल भी बढ़ेगा| इस निरीक्षण में महिलाओं का उत्साह काफी प्रशंसनीय रहा तथा श्रीमती ईशा कालिया जी के द्वारा इस समूह की काफी प्रशंसा की गई और इसके मॉडल पर आगे स्वयं सहायता समूह को लाभ देने का आश्वासन दिया गया| नगर परियोजना अधिकारी नगर निगम गुरुग्राम ने महिलाओं को आश्वासन दिया कि वह जब चाहे उनसे मिलकर अपनी समस्याओं का तत्काल निराकरण प्राप्त कर सकती है|

कुसुम उड़ान महिला स्वयं सहायता समूह जिसका निर्माण अमरेश प्रताप सिंह डिस्ट्रिक्ट कोऑर्डिनेटर  (एन यु एल एम ,गुरुग्राम) (आर ओ एक्सीलेंट सिविल अकैडमी ट्रस्ट) के द्वारा किया गया है| इस समूह की प्रधान कुसुम लता जी है, आज कुसुम लता जी नारी शक्ति का एक प्रतीक बन रही है, इन्होंने महिलाओं को आर्थिक रूप से स्वावलंबी बनाने के लिए अपना स्वयं सहायता समूह शुरू किया तथा इन्होंने स्वयं सहायता समूह से जुड़ी महिलाओं को एकजुट करके एक बुटीक की शुरुआत की तथा आज इस समूह से जुड़ी महिलाएं घर पर ही रहकर आर्थिक रूप से मजबूत बन रही है| इस समूह में उपस्थित महिलाओं में कुसुम लता, मंजू, लाजवंती, रीना, स्नेह लता ,सुमन, संगीता, अरुणा, किरण और ज्योति का कार्य सराहनीय रहा|

Post a Comment

0 Comments