जीवन में आगे बढ़ने का एकमात्र सूत्र अनुशासन - प्रदीप जेलदार

 जीवन में आगे बढ़ने का एकमात्र सूत्र अनुशासन - प्रदीप जेलदार 

खेल हमें सिखाते हैं अनुशासन - राम निवास डीएसओ

शिविर में पढ़ाया पाठ - बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ 

आज राजकीय कन्या  वरिष्ठ मध्य्मिक विद्यालय जैकबपुरा जिला  गुरुग्राम के प्रांगण में चल रहे सात दिवसीय राष्ट्रीय सेवा  योजना ईकाई कैंप का  शुभारंभ प्रधानाचार्य सुशील कुमार कण्व द्वारा किया गया। राष्ट्रीय सेवा योजना  ईकाई की अधिकारी श्रीमती स्नेह ,प्रवक्ता जीव विज्ञान ने 55 सवंसेवी और सातों  दिन  की विभिन्न गतिविधियों  से अवगत कराया । कैंप  की सुबह की पारी प्रधानाचार्य सुशील कुमार कण्व प्रधानाचार्य जो कि 12 -13 सालों तक राष्ट्रीय सेवा योजना जिला सयोंजक फरीदाबाद का चार्ज  संभालते रहे हैं, इसकी शुरुआत कब और कैसे हुई ,सब कुछ विस्तार से बच्चों को बताया  । इसी पहली पारी में कैंप मे आज के मुख्य अतिथि प्रसिद्ध समाज सेवी प्रदीप जेलदार  ने एन एस एस  में लगने वाले शिविरो के बारे विस्तार से बताया की उसका महत्व क्या रखता है हमारे जीवन में एनएसएस में सीखा हुआ हमें हमेशा याद रहता है वो स्मृत्या हम भूल नहीं सकते । 

कैंप की दूसरी पारी में  श्रीमान प्रदीप जी के साथ जुड़ते हुए  हुए जिला खेल अधिकारी अम्बाला राम निवास  और कप्तान लखपत सिंह  और हमारे अतिथि गणों के साथ जुड़ते हुए मैडम स्नेह, तन्नु राठी, सुनीता रानी बिंदु दक्ष,नवीन भारद्वाज  और ओमप्रकाश  के कार्यकर्म आगे बढ़ाया प्रधानाचार्य सुशील  कुमार कण्व ने अतिथियों का फूल माला से सम्मान किया और अपनी विचार रखे | प्रधानाचार्य सुशील कुमार कण्व जी ने बच्चों को बताया कि कैंप की हमारे जीवन में क्या अहमियत  है कि वो हमारी शान और पहचान है।  रामनिवास जी ने अपनी एन एस एस कैंप कुछ स्मृतियां  बताईं कि अनुशासन सबसे महत्वपूर्ण है । कैप्टन लैखपक सिंह जी ने भी हमें अनुशासन के बारे में बताया और दूसरों पर निर्भर  नहीं रहना चाहिए स्वयं अपना कार्य करना चाहिए। अंत में बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ की रैली का भी आयोजन किया गया। यह पूरा कार्यक्रम प्रधानाचार्य सुशील कण्व  की देखरेख में व राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय जैकबपुरा गुरुग्राम हरियाणा की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई की कार्यक्रम अधिकारी स्नेह जीव विज्ञान प्रवक्ता के मार्गदर्शन व अगुवाई में चल रहा है ।

Post a Comment

0 Comments