ब्रह्म दत्त ब्लू बैल्स पब्लिक स्कूल में विशाल अन्तर्विद्यालयी आई.टी. मेले का आयोजन 


जीवन का कोई भी कोना सूचना और प्रौद्योगिकी से अछूता नहीं हैबिना सूचना और प्रौद्योगिकी के एक भी पग चलना असंभव सा जान पड़ता हैबच्चे से लेकर बूढे़ तक के हाथ में फोन अथवा कंप्यूटर मौजूद है अतः छात्रों को साइबर के प्रयोग के बारे में शिक्षित करना आवश्यक हैसाइबर की शिक्षा के बगैर आज का विद्यार्थी अशिक्षित माना जाता हैअखबारों में आए दिनों समाचार छपते हैं और अपने आस पड़ोस में लोग साइबर ठगी के शिकार हो रहे हैंआजकल तो नासमझी के चलते ना जाने कितने लोगों को इसकी लत लग जाती है और वे अपराध भी कर बैठते हैंआए दिनों अपने देश में बच्चे अवसाद में घिर कर अपनी पढ़ाई से विमुख को रहे हैंइसी विषय को ध्यान में रखते हुए ब्रह्म दत्त ब्लू बैल्स पब्लिक स्कूल, गुरुग्राम ने 6 से 12वीं तक के विद्यार्थियों के लिए साइबरस्पेज़ का आयोजन कियाइस आयोजन उद्देश्य छात्रों में सूचनाप्रौद्योगिकी की क्षेत्र में नवाचार को बढ़ावा देना तथा तकनीकी कौशल को निखारना थाइंटरनेट हमें बहुत रास्ते दिखाता है परंतु सही रास्ते का चुनाव सफलता दिलाता है और गलत रास्ता निराशा प्रदान कराता है।  

ब्लू बैल्स गुप आॅफ स्कूल्स की आई.टी. उपनिदेशिका श्रीमती अंशुका अनेजा के निर्देशन में तीन दिवसीय साइबर स्पेज का आयोजन किया गयाराष्ट्रीय साइबर सुरक्षा विशेषज्ञ श्रीमान रक्षित टंडन मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहेश्रीमान टंडन जी ने बच्चों को साइबर ठगों के ठगने के तरीकों से अवगत करायाउन्होंने बताया कि साइबर ठग नए-नए संसाधनों से स्वांग रचते हैंसूचना के संसाधनों का प्रयोग करते समय हमें हमेशा सतर्क रहना चाहिएहमें कभी भी अपनी निजी जानकारी को किसी से साँझा नहीं करनी चाहिएसूचना के संसाधनों का प्रयोग करते समय यदि कोई किसी को अपशब्द कहता है या मानसिक रूप से प्रताड़ित करता है तो उसके लिए न्यायालय द्वारा सजा का भी प्रावधान किया गया है साइबर संबंधी समस्या के समाधान के लिए आप 1903 पर फोन कर सकते हैं पुलिस आपकी सेवा में हमेशा तत्पर है 

उद्घाटन समारोह के दौरान प्राचार्य डॉ. त्रिलोक सिंह बिस्ट द्वारा गर्मजोशी से स्वागत किया गया, क्योंकि छात्र अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिए तैयार थे। ब्रह्म दत्त ब्लू बेल्स के विद्यार्थियों द्वारा सूचनाप्रौद्योगिकी के क्षेत्र में नवाचार को बढ़ावा दिया गयाविद्यार्थियों को यंत्रों को समायोजित करके रोबोट का निर्माण करना था, इस प्रतियोगिता में छात्र-छात्राओं ने बढ़-चढ़कर भाग लियाविद्यार्थियों के द्वारा साइबर क्राइम के प्रति लोगों को जागरूक करने के अद्भुत तरीकों नुक्कड़ नाटकनृत्य अभिनयको देखकर दर्शकों की आँखें खुली की खुली रह गईं नुक्कड़ नाटक में विद्यार्थियों ने दिखाया कि साइबर ठग मीठी-मीठी बातों से छलावा कर लोगों को अपनी जाल में फसाते हैं अतः उनसे सावधान