सवाल यह है कि देश कितने सुरक्षित हाथों में : पंकज डावर

 सवाल यह है कि देश कितने सुरक्षित हाथों में : पंकज डावर

— भाजपा के लोग आरोप-प्रत्यारोप के बजाय सुरक्षा व्यवस्थाओं पर करें विचार



गुड़गांव, 14 दिसम्बर

आधा दर्जन लोगों द्वारा योजना बनाकर जिस तरह संसद की सुरक्षा व्यवस्था में सेंध लगाकर सुरक्षा व्यवस्था को तार-तार किया यह अपने आप में यहां की सुरक्षा एजेंसियों पर सवाल खड़े करता है। यह कहना है कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पंकज डावर का। डावर ने कहा कि जिन लोगों ने संसद में हुड़दंग मचाया और अपनी पीड़ा व्यक्त की यह तरीका बिल्कुल गलत है। इसकी  जितनी निंदा की जाए कम है।

सवाल यह है कि यह एक छोटी धटना भले ही जान पड़ रही हो लेकिन जिस तरह के हालात बने वे हालत संसद की सुरक्षा के साथ-साथ अब देश की सुरक्षा पर भी सवाल खड़े कर रहे हैं। पंकज डावर ने कहा कि इस घटना से अंदाजा लगाया जा सकता है कि हमारा देश आज कितना सुरक्षित है और कितने सुरक्षित हाथों में है। डावर ने कहा कि इस घटना के सामने आने के बाद भाजपा के कई नेता तरह-तरह की बयानबाजी कर रहे हैं, जबकि उन्हे सुरक्षा व्यवस्थाओं पर बात करनी चाहिए।

फोटो— पंकज डावर।

Post a Comment

0 Comments