दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी, सम्मान समारोह एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम का हुआ आयोजन

 दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी, सम्मान समारोह एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम का हुआ आयोजन

हिसार। विलक्षणा एक सार्थक पहल समिति, रोहतक, हरियाणा कला परिषद, हिसार मंडल तथा गुरु विद्यापीठ, रोहतक द्वारा बाल भवन के सभागार में दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी, सम्मान समारोह तथा सांस्कृतिक कार्यक्रम वक्त आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में राज्यसभा सांसद कृष्ण लाल पंवार मुख्य अतिथि के रूप में सम्मिलित हुए। हरियाणा कला परिषद के अतिरिक्त निदेशक महाबीर गुड्डू, सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता रुद्र विक्रम सिंह अति विशिष्ट अतिथि के रूप में सम्मिलित हुए। हरियाणवी लोकगायक रामकेश जीवनपुर तथा जिला पार्षद संदीप विशिष्ट अतिथि के रूप में सम्मिलित हुए। महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ, वाराणसी से डॉ चंद्रशेखर सिंह, टांटिया विश्वविद्यालय, श्रीगंगानगर से डॉ नरेश सिहाग, दयानंद महाविद्यालय से डॉ उन्नति शर्मा तथा चौधरी बंसी लाल विश्वविद्यालय से डॉ सुशीला ने वक्ता के रूप में अपना व्याख्यान दिया।  विलक्षणा एक सार्थक पहल समिति की संस्थापक एवं अध्यक्षा डॉ सुलक्षणा अहलावत, राहुल अहलावत, गुरु विद्यापीठ के संस्थापक अनिल कुमार व नन्दकिशोर भी कार्यक्रम में सम्मिलित हुए। 

गुरु विद्यापीठ के निदेशक डॉ विकास शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि अपने अपने कार्यक्षेत्र में विशेष कार्य करने के लिए देश के कोने कोने से आई महान विभूतियों को अलग अलग सम्मान से सम्मानित किया गया। उन्होंने बताया कि डॉ रामफल चहल को विलक्षणा कला एवं संस्कृति रत्न से सम्मानित किया गया। डॉ विकास ने बताया कि विलक्षणा समाज सारथी सम्मान से 7 विभूतियां, ग्लोबल एजुकेटर आइकॉन अवार्ड से 21 शिक्षकों, रिसर्चर आइकॉन अवार्ड से 14 शोधार्थियों तथा उत्कृष्ट पत्रकारिता के लिए विलक्षणा बुलंद आवाज से 15 पत्रकारों को सम्मानित किया गया। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राज्यसभा सांसद कृष्ण लाल पंवार ने विलक्षणा एक सार्थक पहल समिति, रोहतक के सामाजिक कार्यों को देखते हुए दो लाख रुपये अनुदान राशि की घोषणा की। हरियाणा कला परिषद के कलाकारों ने मनमोहक प्रस्तुतियों के माध्यम से पूरे देश से सम्मिलित अतिथियों को हरियाणवी संस्कृति से रूबरू करवाया। इसी कार्यक्रम में विलक्षण दर्पण पत्रिका का विमोचन किया गया। इस कार्यक्रम में दोनों संस्थाओं के सभी सदस्य उपस्थित रहे।

Post a Comment

0 Comments