नारी सशक्तिकरण और नारी सुरक्षा के आधार पर एक कार्यशाला का आयोजन किया

 


गुरुग्राम पुलिस के द्वारा आज विवेकानंद पब्लिक स्कूल, गढ़ी हरसरू में नारी सशक्तिकरण और नारी सुरक्षा के आधार पर एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। लगभग 400 छात्र छात्राओं और उनके अभिभावकों के बीच में आयोजित करी गई। इस कार्यशाला में नारी सुरक्षा और नारी अपराध पर चर्चा की गई। बच्चों और उनके अभिभावकों को यह बताया गया कि किन-किन परिस्थितियों में कौन-कौन सी दुर्घटनाएं हो सकती हैं और उसके लिए बेहिचक निर्भीक होकर कैसे वे पुलिस के पास जाकर और उनसे मदद ले सकते हैं। 

112 इंडिया ऐप के द्वारा कैसे वह पुलिस की सहायता ले सकते हैं, विकट परिस्थितियों में कैसे पुलिस उसकी मदद उनकी मदद कर सकती है और कैसे पुलिस में वह एफ आई आर दर्ज करा सकते हैँ। किसी भी दुर्घटना /अपराध या किसी भी गलत व्यक्ति के चंगुल मे फंसने से बच सकते है।बच्चों को बाल अपराध और बच्चों के प्रति किए जाने वाले अपराधों के प्रति सजग किया गया और कैसे-कैसे अपराध हो सकते हैं,बच्चों के साथ उन्हें आसानी से बात कर उनका मार्गदर्शन और उन्हें उत्साहित कर  जानकारी दी गई। इस अवसर पर बोलते हुए वरिष्ठ शिक्षाविद श्रीमती संगीता दास जी ने कहा कि बच्चों को सजग रहना बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि सजगता ही उन्हें एक निर्भीक और जुझारू इंसान बनाती है। इस अवसर पर सभी छात्र-छात्राओं और उनके अभिभावकों को 112 इंडिया ऐप जो किसी भी नागरिक की हर तरीके से मदद करता है और तुरंत मदद पहुंचाता है उसका डेमो देकर सबके मोबाइल में डाउनलोड कराया गया, ताकि सभी सजग होकर उसका उपयोग कर सके। 

इस कार्यक्रम में महिला पुलिस थाना मानेसर से आई महिला पुलिसकर्मियों द्वारा बताया गया कि पुलिस मित्र होती है, सेवा और सुरक्षा उनका ध्येय होता हैं लेकिन लोग पुलिस से दूर भागते हैं पुलिस सब की सहायता के लिए होती है और पुलिस किसी भी अपराध को रोकने के लिए हमेशा तत्पर और सजग रहती है। हमें उनका सहयोग एक मित्र की तरह करना चाहिए। इस अवसर पर विद्यालय के प्राचार्य श्री राम बहादुर सिंह ने अपनी बात रखी और विद्यालय में आने वाले सभी पुलिस के अधिकारियों और विशेष कर संगीता दास और महिला पुलिस कर्मियों का अभिनंदन किया और पुष्पगुच्छ और स्मृति चिन्ह देकर कर कर अभिवादन किया।इस अवसर पर विद्यालय के सभी शिक्षक शिक्षिकाओं का महत्वपूर्ण योगदान रहा।



Post a Comment

0 Comments