द्रोणाचार्य गवर्नमेंट कॉलेज गुरुग्राम में शोध- कार्यशालाओं का हुआ समापन

 द्रोणाचार्य गवर्नमेंट कॉलेज गुरुग्राम में शोध- कार्यशालाओं का हुआ समापन

रेलवे रोड स्थित द्रोणाचार्य गवर्नमेंट कॉलेज में शोध कार्यशाला का आज आखिरी दिन था।इसका आयोजन कॉलेज की प्लेसमेंट सेल एवं वनस्पति विज्ञान विभाग के संयुक्त तत्वावधान में हुआ।दोनो दिन के कार्यक्रम अध्यक्ष कॉलेज प्राचार्य घनश्याम दास रहे। आज सभी स्ट्रीम के अंडर ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट छात्रों के लिए कॉलेज के प्लेसमेंट सेल और आंतरिक गुणवत्ता आश्वासन सेल द्वारा कार्यशाला का सफल संचालन देखने को मिला।महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय, रोहतक की सहायक प्रोफेसर डॉ. प्रीति शर्मा मुख्य वक्ता  रही उन्होंने खोजपूर्ण अनुसंधान, सांख्यिकीय उपकरण, पोस्ट फैक्टो अनुसंधान, अनुसंधान डिजाइन आदि जैसी कठिन अवधारणाओं को त्रुटिहीन रूप से समझाया। कार्यशाला की शुरुआत एक शोध समस्या को चुनने और वास्तविक दुनिया में उसके अनुप्रयोग जैसी बुनियादी अवधारणाओं की व्याख्या के साथ हुई। कार्यशाला में 200से अधिक छात्रों और कॉलेज के विभिन्न विशेषज्ञता के संकाय सदस्यों ने भाग लिया। डॉ पूनम कपूर, प्लेसमेंट सेल की संयोजिका ने धन्यवाद ज्ञापन के साथ स्पीकर के प्रयासों की सराहना की। 

इससे पहले दिन  परफेक्ट स्क्वायर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी वाई के वर्मा द्वारा बौद्धिक संपदा अधिकार पर एक कार्यशाला आयोजित की गई। इसका आयोजन प्लेसमेंट सेल एवं वनस्पति विज्ञान विभाग द्वारा किया गया था। मुख्य वक्ता, वाई के वर्मा ने वैश्विक नवाचार सूचकांक, रचनात्मक सोच के तरीके, कॉपीराइट, पेटेंट और छात्रों को अधिक सफलता के लिए उच्च लक्ष्य कैसे रखना चाहिए जैसी महत्वपूर्ण अवधारणाओं पर प्रकाश डाला। कार्यशाला को खूब सराहा गया। इसकी योजना विज्ञान पृष्ठभूमि के छात्रों को उद्योग में आसान अवशोषण के लिए महत्वपूर्ण नौकरी संबंधी आवश्यकताओं के साथ उन्मुख करने के लिए बनाई गई थी। अंत में प्राचार्य घनश्याम दास ने सभी वक्ताओं का धन्यवाद किया और कार्यशालाओं के सफल संयोजन के लिए संबंधित विभागों की सराहना भी की ।इस मौके पर डॉ तरुण लता,डॉ. पूनम चौधरी, डॉ. ज्योति सिंह,डॉ. अनु यादव,डॉ. सुजाता, डॉ. पूजा गौड़, डॉ. आरके शर्मा, डॉ. तरूण लता सहित अन्य विभाग के सदस्य भी मौजूद रहे।

Post a Comment

0 Comments